05 फ़रवरी 2018

मनाई समाजवादी चिंतक भूपेंद्र नारायण मंडल की 114 वीं जयंती, चंद्रकांता हुई सम्मानित

मधेपुरा के महान समाजवादी चिंतक कहे जाने वाले भूपेंद्र नारायण मंडल की 114 वीं जयंती बड़े धूमधाम से मनाई गई. 


जिले के उत्क्रमित मध्य विद्यालय गोठ बरदाहा में आयोजित 114 में भूपेंद्र जयंती समारोह का उद्घाटन करते हुए कहा गया कि भूपेंद्र बाबू सामाजिक प्रतिष्ठा नहीं मिलने वालों के समर्थन में सदैव ही संघर्ष करते रहे. समतामूलक समाज की स्थापना ही भूपेंद्र बाबू का दर्शन था. 

भूपेंद्र नारायण मंडल विचार मंच के तत्वाधान में आयोजित समारोह की अध्यक्षता करते हुए श्यामल किशोर यादव ने उन्हें महान इंसान बताया. भूपेंद्र बाबू की तस्वीर पर आगत अतिथियों द्वारा माल्यार्पण के पश्चात स्कूली बच्चों द्वारा स्वागत गान और मुखिया उमेश कुमार के द्वारा स्वागत भाषण किया गया.

सचिव डॉक्टर आलोक कुमार ने भूपेंद्र बाबू के संक्षिप्त जीवन वृत्त का वाचन किया. समारोह को संबोधित करते हुए पूर्व मंत्री नरेंद्र नारायण यादव ने कई प्रेरक संस्मरण सुनाए. प्रोफेसर अब्दुल गफूर ने भूपेन्द्र बाबू के जन्मदिन को राजकीय समारोह के रूप में उनके कर्म स्थल मधेपुरा और पैतृक स्थल रानीपट्टी में मनाए जाने के प्रस्ताव का पुरजोर समर्थन किया. विजय कुमार वर्मा ने राजकीय समारोह मनाए जाने के अपने प्रयासों की चर्चा की. बताया गया कि पटना में राजकीय समारोह आयोजित होता है लेकिन मधेपुरा में आयोजन संबंधी घोषणा अभीतक लंबित है. 

पूर्व विधायक परमेश्वरी प्रसाद निराला ने भूपेंद्र बाबू के संघर्ष जीवन पर प्रकाश डाला. पूर्व प्रति कुलपति डॉ. के. के. मंडल ने भूपेंद्र बाबू के विचार दर्शन का विद्वतापूर्ण विश्लेषण किया. पूर्व प्रधानाचार्य प्रो० सचिदानंद यादव ने डॉ. लोहिया के कथन को दुहराते कहा कि भूपेन्द्र बाबू आदमी नहीं, हीरा थे. इसके अलावे भाजपा जिलाध्यक्ष स्वदेश कुमार, डॉ. विजय कुमार विमल, जदयू जिलाध्यक्ष प्रो. विजेंद्र नारायण नारायण यादव, प्रो. शचीन्द्र, इंजीनियर महेंद्र ना० मंडल, कीर्ति नारायण यादव, विजय यादव, प्रो० गीता यादव, समाजसेवी चंद्रशेखर, कौशल यादव, रामकृष्ण यादव, दीप नारायण यादव, धर्मदेव यादव ने भी अपने उद्गार व्यक्त किए.

 समारोह को सफल बनाने में आनंद कुमार, विजय यादव, प्रो० चित ना० यादव, रणधीर कामत सहित विद्यालय परिवार ने भरपूर सहयोग किया. मंच संचालन विचार मंच के कार्यकारिणी सदस्य परमेश्वरी  यादव और धन्यवाद ज्ञापन आर के राजेश ने किया.

 इस अवसर पर अखिल भारतीय स्वच्छता अभियान निबंध लेखन प्रतियोगिता में प्रथम स्थान प्राप्त और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा पुरस्कृत गम्हरिया, बैजनाथपुर, सहरसा निवासी दयानंद यादव की सुपुत्री चंद्रकांता नैना को विचार मंच द्वारा प्रतीक चिन्ह, अंगवस्त्र और समाजसेवी चंद्रशेखर द्वारा 5100/- रू० प्रदान कर सम्मानित किया गया.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...