14 फ़रवरी 2018

‘मोर भंगिया के...’: रंगबिरंगे बारातियों के साथ धूमधाम से निकली बाबा भोलेनाथ की बारात

‘मोर भंगिया के मनाय द हो भोलेनाथ मोर भंगिया के मनाय द’ के गीत के साथ संध्या 4 बजे जब सिंहेश्वर मंदिर से बाबा भोलेनाथ की बारात निकली तो भक्ति का सैलाब बारात में शामिल होने के लिए उमड़ पड़ा ।

नाचते गाते श्रद्धालुओं का हुजूम का दृश्य देखते ही बनता था । मधेपुरा जिले के प्रसिद्ध बाबा की नगरी सिंहेश्वर में बाबा भोलेनाथ के बारात में रंग बिरंगे बाराती दिखाई दे रहे थे । बारात के आगे-आगे घुड़सवार का एक दल चल रहा था और उसके पीछे रंग बिरंगे वेशभूषा में बाराती नाच रहे थे । भूत-प्रेतों की टोली अदभुत छटा बिखेर रही थी । युवकों के झुंड को शराब बंदी के बाद पहली बार इस तरह जम कर नाचते देखा गया ।

रथ पर बाबा के साथ बीडीओ अजीत कुमारसमिति सदस्य सरोज सिंह, कन्हैया ठाकुर, नुनु ठाकुर, बेचन ठाकुर सवार थे । बारातियों के स्वागत के लिए पूरे बाजार में लोग घरों के आगे दीप जलाकर कर मानो दीपावली मना रहे हो । बारात के समय सिंहेश्वर वासी कतार में खड़े होकर धूप-दीप, अगरबत्ती आदि लेकर खड़े थे । समूचे बाजार में जगह-जगह बारातियों का स्वागत चाय, पान, पानी और शर्बत से किया गया ।

शर्मा चौक पर दिलीप खंडेलवाल, घनश्याम शर्मा, शंकर अग्रवाल, पिंटू अग्रवाल ने मारवाड़ी संघ की तरफ से बादाम मिश्रित दूध लोगों को पिलाया । जब बारात गौड़ीपुर के गौड़ी मंदिर पहुंची तो वहाँ बारातियों का स्वागत आम बारातियों की तरह ही किया गया । सबको आदर के साथ बाबा भोलेनाथ का प्रसाद मिश्रित शर्बत पिलाया गया । वहाँ सिंहेश्वर मंदिर न्यास समिति के सदस्य के परिवार की महिलाओं ने विधि विधान से बाबा भोलेनाथ के वैवाहिक कार्यक्रम को संपन्न किया । 

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...