25 जनवरी 2018

सीनेट बैठक से पूर्व मंडल विश्वविद्यालय सिंडिकेट की बैठक सम्पन्न

बीएनएमयू सीनेट की प्रस्तावित बैठक के मद्देनजर सिंडिकेट की बैठक गुरूवार को कुलपति डाॅ. अवध किशोर राय की अध्यक्षता में संपन्न हुई। 


इसमें राज्यपाल सचिवालय के पत्रांक-बीएनएमयू-07/2018-73/रा.स.-1, दिनांक-12.01.18 की स्वीकृति के आलोक में 3 फरवरी को होने वाले सीनेट की वार्षिक बैठक की कार्यसूची का अनुमोदन किया गया। 

सिंडिकेट ने सर्वसम्मति से कुलपति डॉ. अवध किशोर राय को सीनेट की बैठक की अध्यक्षता करने हेतु प्राधिकृत किया। वे सीनेट में अपना अध्यक्षीय अभिभाषण प्रस्तुत करेंगे। इसके अलावा अन्य सदस्यों को भी सीनेट की बैठक में अलग-अलग जिम्मेदारियों के निर्वहन हेतु अधिकृत किया गया है। प्रति कुलपति डाॅ. फारूक अली बजट भाषण देंगे। डीएसडब्लू डॉ. अनिलकांत मिश्र वित्तीय वर्ष 2018-19 के वास्तविक आय-व्यय का लेखाजोखा प्रस्तुत करेंगे। डाॅ. जवाहर पासवान 20 मई 2017 को संपन्न हुए पिछले सीनेट की बैठक की कार्यवाही की कार्यसूची प्रस्तुत करेंगे और डाॅ. शब्बीर हुसैन इस कार्यसूची की संपुष्टि का प्रस्ताव रखेंगे। डाॅ. अजय कुमार वार्षिक प्रतिवेदन प्रस्तुत करेंगे।

बैठक में विभिन्न समितियों/ निकायों की कार्यवाही का अनुमोदन किया गया।  आरकेके काॅलेज, पूर्णिया द्वारा बरती गयी अनियमिता पर विचार किया गया। काॅलेज द्वारा राज्य सरकार एवं विश्वविद्यालय द्वारा निर्धारित संख्या से अधिक विद्यार्थियों का अनाधिकृत रूप से कथित नामांकन लेने की भर्त्सना की गयी। इससे सत्र नियमितिकरण में हुई बाधा पर चिंता व्यक्त की गयी। पूरे मामले पर नियमानुकूल कार्रवाई की जाएगी।
बैठक में 23 दिसंबर को संपन्न सिंडीकेट की गत बैठक की कार्यवाही की संपुष्टि की गयी और  उसमें लिए निर्णयों का अनुपालन प्रतिवेदन प्रस्तुत किया गया। मुख्य बातें निम्न हैं:

1. 80 प्रतिशत सेवानिवृत शिक्षक एवं कर्मियों को पीपीओ निर्गत किया जा चुका है।
2. पीजी सेंटर, सहरसा, आरएम लाॅ काॅलेज, सहरसा, एसएनआकेएस काॅलेज, सहरसा, के. बी. झा. काॅलेज, कटिहार, फारबिसगंज काॅलेज, फारबिसगंज द्वारा वित्तीय वर्ष 2009-16 के दौरान खर्च की विवरणी विश्वविद्यालय में जमा नहीं कराई गयी है। ससमय वांछित सूचनाएं उपलब्ध नहीं कराने पर संबंधित प्रधानाचार्यों का वेतन रूकेगा।
3. निजी बी. एड. काॅलेजों को राजभवन द्वारा निर्धारित शुल्क से अधिक शुल्क नहीं लेने का निर्देश दिया गया है।
4. विश्वविद्यालय के नये परिसर में रोडमेप बनाने का कार्य जारी है।
5. रजत जयंती समारोह की तैयारी शुरू हो गयी है। इसके लिए 2 करोड़ का अनुदान प्राप्त करने हेतु यूजीसी को प्रस्ताव भेजा जाएगा।
6. नये परिसर में अत्याधुनिक सभागार बनाने का प्रस्ताव यूजीसी को भेजा जाएगा।
7. संबद्ध महाविद्यालयों में शिक्षक प्रतिनिधि एवं दानदाता सदस्य के चुनाव विश्वविद्यालय प्रतिनिधि के समक्ष होंगे। यदि विश्वविद्यालय प्रतिनिधि पर्यवेक्षक की नियुक्ति की अनुशंसा करेंगे, तभी पर्यवेक्षक नियुक्त किया जाएगा।

बैठक में प्रति कुलपति डाॅ. फारूक अली, विधायक द्वय अनिरूद्ध प्रसाद यादव एवं नीरज कुमार बबलू , डीएसडब्लू डॉ. अनिलकांत मिश्र, प्रभारी कुलानुशासक डॉ. अरूण कुमार, कुलसचिव डॉ. नरेन्द्र श्रीवास्तव, डॉ. परमानंद यादव, डॉ. अरूण कुमार मिश्र, डॉ. एम. जेड. आलम, डॉ. एच. एल. एस. जौहरी, डॉ. शब्बीर हुसैन, डॉ. अजय कुमार, डॉ. जवाहर पासवान आदि उपस्थित थे।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...