25 जनवरी 2018

मधेपुरा में भी पद्मावत का विरोध सड़क पर, सिनेमाघरों में फिल्म न चलाने की मांग

विवादित फिल्म पद्मावत का विरोध देश के कई हिस्सों के साथ मधेपुरा तक पहुंच गया. फ़्रेंड्स ऑफ आनंद के जिला संगठन ने आज यहां सिनेमा घरों के मालिक से इस सम्बन्ध मे बात कर फ़िल्म पद्मावत को प्रदर्शित ना करने की अपील की.


फ्रेंड्स ऑफ आनंद के मधेपुरा जिला अध्यक्ष ध्यानी यादव ने हॉल मालिकों से आग्रह किया कि जनभावनाओं और रानी पद्मावती के गौरवपूर्ण इतिहास को देखते हुए ऐसे काल्पनिक फ़िल्म को अपने सिनेमाघरों में ना चलायें. श्री यादव ने कहा कि लोग इसे किसी खास जाति या राजनीति के चश्मे से न देखें. रानी पद्मावती भारतीय नारी के स्वाभिमान और बलिदान का प्रतीक है और इस फ़िल्म के जरिये संजय लीला भंसाली ने एक गौरवमयी इतिहास को बदनाम करने की साजिश की है. फ़िल्म उद्योग को सिर्फ पैसा कमाने से मतलब होता है किसी इतिहास या सच्चाई से नहीं. 

बताया गया कि इस बाबत सिनेमा घर मालिकों ने भी आश्वस्त कराया कि वे इस सिनेमा को अपने सिनेमाघरों में प्रदर्शित नहीं करेंगे. 

मौके पर बाबाजी सिंह, सतीश सिंह, अमित कुमार मोनी, सोनी सिंह, रिंकू झा, संजय कुमार राय, पप्पू कुमार, मोहन कुमार, प्रदीप कुमार, जगरनाथ पाल, लल्टू कुमार एवम फ़्रेंड्स ऑफ आनंद के कई सदस्य मौजूद थे.
(नि. सं.) 

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...