01 दिसंबर 2017

‘जानकारी ही बचाव है’: विश्व एड्स दिवस पर पीएचसी ने निकाली जन जागरूकता रैली

आज 01 दिसंबर को देश भर में विश्व एड्स दिवस मनाया गया । इसी कड़ी में मधेपुरा जिले के पुरैनी पीएचसी द्वारा जन जागरूकता के लिए मुख्यालय में एक रैली निकाली गई। 

रैली में एड्स से बचाव के उपाय बताए एवं एड्स से होने वाले नुकसानों की जानकारी देते हुए नारे लगाए गए । उप्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डाॅ विनीत भारती ने बताया कि रैली का एक मात्र उद्येश्य है कि शहरवासियों व युवाओं को एड्स के ​बारे में जागरूक किया जा सके। क्योंकि कहा जाता है कि जानकारी ही बचाव है। यह रैली मुख्यालय के विभिन्न चौक चौराहे से गुजरते हुए पीएचसी पहुंचकर समाप्त हुई।
जन जागरूकता रैली मे स्वास्थ्य प्रबंधक अरूण कुमार, डाक्टर सुभाष सिंह, स्वास्थ्य प्रशिक्षक एमिली मुर्मू बीएम केयर अशोक चौधरी, लैब टेक्नीशियन विकास कुमार पीएमडबलयू नौशाद आलम, डाटा आपरेटर नरेन्द्र कुमार, वंदे मोहन जीवन मिश्र, सहित सभी आशा कार्यकर्ता शामिल थी।

कब से मनाया जाता है एड्स दिवस: 1988 के बाद से 1 दिसंबर को हर साल मनाया जाता है, जिसका उद्देश्य एचआईवी संक्रमण के प्रसार की वजह से एड्स महामारी के प्रति जागरूकता बढाना, और इस बीमारी से जिसकी मौत हो गई है उनका शोक मनाना है। सरकार और स्वास्थ्य अधिकारी, ग़ैर सरकारी संगठन और दुनिया भर में लोग अक्सर एड्स की रोकथाम और नियंत्रण पर शिक्षा के साथ, इस दिन का निरीक्षण करते हैं।
 

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...