18 दिसंबर 2017

मोतियाबिंद के 38 रोगियों का हुआ मुफ्त ऑपरेशन, चश्मा और दवा भी साथ में

मधेपुरा जिला मुख्यालय के पवन हंस आई केयर क्लिनिक में रविवार को मोतियाबिंद के मरीजों के लिए ऑपरेशन शिविर आयोजित कर 38 मोतियाबिंद के मरीजों का सफल  ऑपरेशन किया गया ।


मिली जानकारी के अनुसार जिला अंधापन नियंत्रण  विभाग  के सौजन्य से  जिले के घैलाढ़ पीएचसी में मोतियाबिंद के रोगियों के लिए जांच शिविर आयोजित की गई, जहाँ 215 मरीजों की जांच की गई, जिनमें 38 की पहचान मोतियाबिंद के रोगियों के रूप में हुई. इन रोगियों का जिला अंधापन नियंत्रण विभाग  के सौजन्य  से शहर के पवन हंस आई क्लिनिक  मे रोगी का ऑपरेशन नेत्र रोग विशेषज्ञ  डॉ. शैलेंद्र कुमार के द्वारा किया गया. ऑपरेशन में डॉ. कुमार  के अलावे सहयोगी सह पवन हंस आई केयर क्लिनिक के संयोजक डॉ. संजय कुमार, डॉ. रूपेश कुमार मुरलीगंजडॉ. सुधाकर कुमार सिंहेश्वर शामिल थे ।

सभी रोगियों के सफल ऑपरेशन के बाद आज सोमवार को सीएस डॉ. गदाधर प्रसाद  पाण्डेय  ने रोगियों के हालचाल की जानकारी ली और उन्हें सरकारी स्तर  पर मिलने वाला मुफ्त चश्मा और दवा दी
मौके पर पर डॉ. एच एन प्रसाद  भी मौजूद थे. बताया गया कि मधेपुरा जिले में  आंखो के ऑपरेशन के लिए सरकारी स्तर  पर ऑपरेशन थियेटर  नहीं रहने के कारण  निजी स्तर  पर  ऑपरेशन किया जाता है ।
 
सिविल सर्जन डॉ. गदाधर पांडेय  ने कहा कि फिलहाल सरकारी स्तर पर आँखों का ऑपरेशन करने की  व्यवस्था नहीं होने के कारण वैकल्पिक व्यवस्था के तहत निजी क्लिनिक  में ऑपरेशन की गई  है, लेकिन ऑपरेशन का सारा सामान उपलब्ध हो चुका है और जल्द  ही शुरू किया जायेगा. जानकारी दी कि मोतियाबिंद रोगी का 16 दिसंबर को घैलाढ़ पीएचसी मे 215 लोगों की  मोतियाबिंद की जांच की गई, जिनमें 38 मोतियाबिंद के रोगी की पहचान हुई थी । सिविल सर्जन ने ऐसे रोगियों से जांच  कराने की अपील की है ।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...