01 दिसंबर 2017

जमीन के कारण हुई अखिलेश की हत्या?: पत्नी ने घरवालों पर ही लगाया हत्या का आरोप

मधेपुरा जिले के कुमारखण्ड थाना के बेलारी ओपी के गंगारही गांव की शिल्पी ने अपने घर वालो अपने पति की हत्या कर लाश को जला कर साक्ष्य मिटाने का आरोप अपने घरवालों पर ही लगाया है.

मिली जानकारी के अनुसार मनहारा गांव की निवासी शिल्पी के परिजनों ने बताया कि शिल्पी की शादी तीन साल पूर्व बेलारी के गंगारही गांव  के अखिलेश  कुमार से किया. शिल्पी को एक बेटी भी है और वह गर्भवती होने के कारण मायके मनहारा चार माह पूर्व आ गई . बीच-बीच  में पति अखिलेश आया करता था. अखिलेश पूरी तरह स्वस्थ था पर गुरूवार  की रात 2 बजे के आसपास अखिलेश  के भाई ने सूचना दी कि अखिलेश की मौत हो गई है.
 
मौत की खबर मिलते शिल्पी के साथ परिवार के अन्य  सदस्य  के साथ गंगारही गांव पहुंचे तो सब कुछ  सामान्य देख पूछा कि अखिलेश की लाश कहाँ है तो बताया गया कि उसके पेट मे दर्द और पेट खराब  होने के कारण उसकी मौत हो गई और उसका दाह-संस्कार भी कर दिया । बिना पत्नी या अन्य के आए लाश ओ जला देने की बात पर कब पुलिस से शिकायत करने की बात कही गई तो वे सभी मिलकर मारपीट  कर उन्हें वहां से भगा दिया । उन्होंने कहा कि जमीन  के कारण  अखिलेश  की हत्या  उनके परिवार  के लोगों ने मिलकर  कर दी है और आनन-फानन में  लाश जला कर साक्ष्य  मिटाने की कोशिश की गई है ।

बेलारी ओपी प्रभारी  हरि शंकर  प्रसाद  ने बताया कि मृतक  की पत्नी ने आवेदन देकर कहा कि उसके पति की हत्या उनके जेठ सुरेन्द्र यादव, धीरेन्द्र यादव, किशोर  यादव  और उनकी पत्नी ने मिलकर  जहर खिलाकहत्या  कर  दिया तथा आनन-फानन  ने उन्हें जला दिया गया है ।
ओपी प्रभारी  ने
बताया कि केस दर्ज  कर लिया गया है और नामजद आरोपी घर छोड़कर  कर फरार हैं.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...