04 दिसंबर 2017

मधेपुरा: अनिश्चित कालीन हड़ताल पर चले गये स्वास्थ्य संविदा कर्मी

बिहार राज्य स्वास्थ्य संविदा कर्मी सोमवार से अपने छः सूत्री मांगों के समर्थन में अनिश्चित कालीन हड़ताल पर चले गये. इस दौरान जिले के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के सामने सभी संविदा स्वास्थ्य कर्मियों ने धरना प्रर्दशन दिया. 

वहीं अपनी मांगों को लेकर जमकर नारे बाजी की. इस दौरान धरना प्रर्दशन कर रहे कर्मियों ने बताया कि इससे पहले सरकार पर अपनी मांगों को मनाने के लिए दो चरणों में काला बिल्ला लगा कर पांच दिनों तक कार्य किया था. उसके बाद एक दिन का सांकेतिक हड़ताल और धरना प्रदर्शन करने का काम भी किया था. परन्तु इन सबसे सरकार के कान पर जूँ तक नहीं रेंगा. अब संघ ने निर्णय लिया है कि जब तक सातवें वेतन आयोग की अनुशंसा के आलोक में विभागीय आदेश से नियुक्त संविदा कर्मियों को दिए मानदेय के अनरूप ही राज्य स्वास्थ्य समिति के अनुसार जिला स्वास्थ्य समिति के कर्मियों और पदाधिकारियों के वेतन का निर्धारण 2017-18 से करने, आकास्मिक मृत्यु के पश्चात अनुकंपा का लाभ और एकमुश्त अनुग्रह राशि का प्रावधान, ईपीएफ की कटौती करने और राज्य स्वास्थ्य समिति बिहार के गवर्निंग बाॅडी से संघ के पदधारकों को भी सदस्य के रूप में नामित करना आदि हमारी मांगों को नहीं माना जायेगा तबतक हम लोग अपना हड़ताल समाप्त नहीं करेंगें.

वहीं इस दौरान स्वास्थ्य प्रबंधक, प्रखंड सामुदायिक उत्प्रेरक, आयुष चिकित्सक, डाटा आपरेटर और सभी आशा-फैसिलेटर सहित सभी संविदा कर्मी मौजूद थें।
(रिपोर्ट: प्रेरणा किरण)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...