17 दिसंबर 2017

शिक्षा विभाग के अधिकारियों द्वारा आर्थिक दोहन के खिलाफ शिक्षक करेंगे आन्दोलन

मधेपुरा जिला के शिक्षा विभाग के पदाधिकारियों द्वारा विद्यालय जांच के दौरान विद्यालय का लेखा पंजी ले जाने के साथ-साथ शिक्षकों को मानसिक एवं आर्थिक रूप से प्रताड़ित कर आर्थिक दोहन कर मोटी रकम वसूली किये जाने के विरोध में शिक्षक संघर्ष मोर्चा के बैनर तले शिक्षकों द्वारा प्रखंड संसाधन केन्द्र परिसर में बैठक कर आंदोलन करने का निर्णय लिया ।

बैठक की अध्यक्षता जिला उपाध्यक्ष कुञ्ज बिहारी सिंह के द्वारा की गई. उन्होंने उपस्थित शिक्षकों को संबोधित करते हुए कहा कि पिछले 12 दिसंबर को जिला कार्यक्रम पदाधिकारी मध्याह्न भोजन के एन सादा द्वारा निरीक्षण किया गया. इस दौरान सभी विद्यालयों को सुधार करने का सख्त निर्देश दिया गया परन्तु उसी तिथि को जिला कार्यक्रम पदाधिकारी स्थापना नसीम अंसारी के द्वारा प्रखंड के लगभग आधा दर्जन विद्यालयों का औचक निरीक्षण के दौरान सभी विधि व्यवस्था ठीक रहने के बावजूद विद्यालय के सभी लेखा पंजी लेकर चले गये. इस दौरान उन्होने डीपीओ नसीम अंसारी पर आरोप लगाते हुए कहा कि विद्यालय के प्रधान को डरा धमका कर जिला मुख्यालय बुलाकर मोटी रकम की उगाही करने में लगे हैं.
कथित लूट के विरोध में प्रखंड के सभी विद्यालय के प्रधान शिक्षक एवं सहायक शिक्षकों द्वारा मध्याह्न भोजन बहिष्कार करने का निर्णय लिया गया. कहा कि अगर इस लूट को रोकने की पहल नहीं की गई तो अगले माह से मध्यान्ह भोजन का बहिष्कार किया जायेगा. इस बैठक में शिक्षक कुन्दन सिंह, मुन्ना कुमार, अजीत कुमार सिंह, दिनेश मंडल, रधुनंदन शर्मा, दीपक कुमार, बिनोद कुमार शर्मा, कृष्ण कुमार सिंह, मुकेश कुमार, चन्देश्वरी राम, अनिल कुमार सिंह, अरविन्द राम, बरूण कुमार, रतन पासवान, अखिलेश कुमार भारती, राजेश कुमार सुमन, बासुकीनाथ मंडल, नीरज कुमार सिंह, पवन कुमार, कुंवर प्रसाद सिंह, सुमन कुमार, अभिजीत भारत, अनीता कुमारी, नन्दकिशोर कुमार, विजय कुमार,रं जन कुमार, नीरज कुमार, बिनोद कुमार सिंह, शशि शेखर ठाकुर, विवेकानंद सिंह, सुदीन कुमार, उदय कुमार, नन्दकिशोर साह, संजय कुमार, विमल कुमार, दिनेश कुमार साह सहित कई शिक्षक मौजूद थे  ।
 (रिपोर्ट: प्रेरणा किरण)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...