14 दिसंबर 2017

जर्जर और रेलिंग विहीन पुल, कर सकते हैं जिन्दगी गुल

सरकारी मशीनरियों और क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों की उदासीनता की वजह से मधेपुरा जिले के पुरैनी प्रखंड क्षेत्र के कई पुल जर्जर और रेलिंग विहीन हो चुके हैं और जरा सी भी चूक होने पर ये रेलिंग विहीन पुल किसी की भी जिन्दगी गुल कर सकते हैं ।


बता दें कि प्रखंड के सपरदह पंचायत की एक बड़ी आबादी वाले गांव कड़ामा को एनएच106 से जोड़ने वाला वर्षो पुराना पुल जर्जर और रेलिंग विहीन हो चुका है और रेलिंग विहीन यह पुल कई वर्षो से कई दुर्घटनाओं का जनक बना हुआ है। जिस कारण सड़क से गुजरने वाले वाहन चालक जान जोखिम में डालकर सफर करने को मजबूर हैं। सुरक्षा की दृष्टि से रेलिंग बनाने की तरफ किसी ने ध्यान नहीं दिया। परिणाम स्वरूप अबतक इस पुल से गिरकर एक दर्जन से अधिक छोटी-बड़ी दुर्घटना घट चुकी है। बावजूद इसके अबतक इस महत्वपूर्ण मार्ग पर बने इस पुल पर रैलिंग बनाने की दिशा में कोई पहल नहीं की गई है। वाहन चालकों और ग्रामीणों ने बताया कि इस पुल पर रात के समय दुर्घटना की आशंका अधिक बनी रहती है। अगर समय रहते इस ओर ध्यान नहीं दिया गया तो पुल पर बड़ी दुर्घटना घटित होने से इंकार नहीं किया जा सकता है।

वहीँ प्रखंड का कुरसंडी पंचायत, जो जिले मे ही नहीं बल्कि प्रदेश भर मे अपनी अलग पहचान रखता है और इसी पंचायत के निवासी स्थानीय विधायक सह पूर्व मंत्री नरेन्द्र नारायण यादव हैं. फिलहाल उनके भतीजे रजनीश कुमार उर्फ बब्लू यादव पंचायत के मुखिया पद पर काबिज हैं. और यह पुल पंचायत को दो टुकड़े में बंटने से बचाता है और इस पुल की भी स्थिति दयनीय है पुल का रेलिंग टूट चूका है और पुल जर्जर है ।

वहीँ बिना रेलिंग के पुल पर आए दिन दुर्घटनाएं होती रहती हैं, बावजूद इसके वर्षों से टूटी रेलिंग आज तक नहीं लगाई जा सकी है, और न ही पुल निर्माण के दिशा मे कोई पहल ही क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों के द्वारा की गई, जिससे क्षेत्रीय जनता में गहरा आक्रोश है। गणेशपुर पंचायत के औरलाहा गांव के बीचोंबीच डैनेज पर बनी पुल भी जर्जर है और रेलिंग विहीन भी ।

कड़ामा गांव स्थित पुल के संदर्भ मे सपरदह पंचायत के मुखिया सह कड़ामा निवासी कंचन देवी एवं उपमुखिया बैकुंठ झा ने बताया कि यह पुल पिछले काफी समय से बिना रेलिंग के है और अनेकों बार रात के समय अनेकों बार वाहन चालक वाहन समेत पुल से गिरने कारण जख्मी हो चुके हैं. गांव के ही एक व्यक्ति मुक्ति यादव की मृत्यु भी हो चुकी है. इस समस्या के हल के लिए बार-बार संबंधित विभाग के अधिकारियों को अवगत करवाया गया परन्तु पुल की सुधि नहीं ली गई। 

जबकि कुरसंडी पंचायत के मुखिया रजनीश कुमार ने बताया कि उक्त सभी पुल के नये सिरे से निर्माण हेतु संबंधित विभाग को लिखा गया है, जल्द ही पुल निर्माण हो जाएगा ।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...