02 दिसंबर 2017

धूमधाम से मनाया गया पैगंबर हज़रत मुहम्मद का जन्मदिन, निकाला जुलूस

पैगंबर हज़रत मुहम्मद सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम का जन्म दिन (ईद मिलाद उन नबी) का आयोजन चौसा प्रखंड में जुलूस महम्मदी निकाल कर बड़े ही धूमधाम से मनाया गया.


मालूम हो कि इस्लाम धर्म के प्रवक्ता हजरत मुहम्मद सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम का आज 1448 वाँ जन्म दिन था. जिसे मुस्लिम समाज के लोगों ने जुलूस मोहम्मदी निकल कर चौसा जनता हाई स्कूल के मैदान में एकत्रित होकर हजरत मुहम्मद सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम के शान में नाते पाक व कुरान की तिलावत से इस का आग़ाज किया. विभिन्न कस्बों से आए मोक्कारीर ने अपने अपने तकरीर में हजरत मुहम्मद सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम के बारे में लोगों को बताया. मौलाना एज़ाजुर रहमान ने कहा कि हजरत साहब सिर्फ मुसलमानों के लिए नहीं सोचते थे बल्कि वो सभी इंसानों के लिए एक सोच रखते थे. अगर सारी दुनिया इनके नक्शे कदम पर चले तो सभी जगह भाई - चारा एवं मोहब्बते होंगी. वहीं मौलाना बदरूज्जमां सिद्दीकी ने कहा कि हजरत मुहम्मद साहब सिर्फ मुसलमानों के ही पथ प्रदर्शक नहीं थे बल्कि वे तो पूरी दुनिया के लिए दयालु और रहनुमा थे. लिहाजा उन्हें पवित्र कुरान में रहमतुल्लिल मुसलेमीन न कहकर रहमतुल्लिल आलेमीन कहा गया है. मौलाना रजा अली रिजवी ने कहा कि हजरत मुहम्मद सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम पूरी मानवता का सम्मान करते थे. उन्होंने दया, करूणा, क्षमा, प्रेम, भाईचारा, लिंगभेद रहित समाज के निर्माण का संदेश दिया है.

मौलाना ताज शउद्दीन ने कहा कि इस्लाम शांति का धर्म है. आतंकवाद का इस्लाम में कोई जगह नहीं है, जो लोग इस्लाम के नाम पर आतंक फैलाते हैं, वे सच्चे मुसलमान नहीं हो सकते. हाफिज वो कारी साकिब रजा ने कहा कि इस्लाम में हजरत मुहम्मद साहब ने रोजा नमाज हज जकात के साथ ही देश भक्ति को कर्तव्य की श्रेणी में रखा है. लिहाजा देशभक्ति मुसलमानों के इमान का हिस्सा है. उन्होंने यह भी कहा कि हमें किसी से देशभक्ति का सर्टिफिकेट लेने की जरूरत नहीं है. जलसा की शुरुआत हाफिज अब्दुर रहमान अशरफी के द्वारा तिलावत ए कुरआन से की गई. इस दौरान मौलाना अफरोज आलम, मौलाना अब्दुल समद बरकाती, मौलाना मुजफ्फर अंजुम मुजफ्फरपुरी, हाफिज हशमत रजा फैजी, मौलाना इरफान सहित कई शायरों और कवियों ने नातिया कलाम पेश किया. जलसा को मौलाना अनवार आलम, मौलाना गुलाम दावर आदि ने भी संबोधित किया.

मौके पर चौसा थाना अध्यक्ष सुमन कुमार सिंह भी उपद्रवियों पर पैनी नजर गड़ाए हुए थे. कहीं कोई उपद्रवी गलत काम न कर दे. इस मौके पर लोजपा के प्रखंड अध्यक्ष मनौवर हुसैन, पत्रकार सुबोध सौरभ, समाजसेवी आफताब आलम, जदयू नेता शिव कुमार यादव कांग्रेस नेता असगर अली, अरजपुर पूर्वी के पंचायत समिति सदस्य, शहादत अली, मुखिया प्रतिनिधि सचिन कुमार पटवे, कैलाश पासवान, जदयू सचिव नरेश ठाकुर निराला, सामाजिक शैक्षणिक कल्याण संघ के अध्यक्ष यहिया सिद्दीकी, जदयू अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के प्रखंड अध्यक्ष मोहम्मद फरीद, जामा मस्जिद चौसा के इमाम मौलवी अबुल कलाम, मास्टर इरशाद, पूर्व समिति सदस्य साकिसाज, अब्बास अली सिद्दीकी, मोहम्मद एहसान, मो फैयाज सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे. कार्यक्रम की अध्यक्षता युवा जदयू के प्रखंड अध्यक्ष अबुसालेह सिद्दीकी ने किया, जबकि मंच संचालन मौलाना एजाज अहमद नेजामी ने किया.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...