21 दिसंबर 2017

बालू-गिट्टी-मिटटी मुद्दे पर मधेपुरा में राजद का बंद रहा असरदार, समर्थक-विरोधी में झड़प

बिहार में नई खनन नीति के विरोध में बिहार बंद आज मधेपुरा में असरदार रहा. राजद कार्यकर्ता आज सुबह से ही सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के निर्देश पर बंद के समर्थन में सड़कों पर बड़ी संख्यां में उतर गए.


मधेपुरा जिले भर में राजद कार्यकर्ताओं ने दुकानें बंद करवाई और विभिन्न सड़कों को जाम कर दिया. जिला मुख्यालय में राजद नेता जिला अध्यक्ष देव किशोर यादव, ई० प्रभाष, पूर्व विधायक परमेश्वरी प्रसाद निराला समेत कई दर्जन नेताओं और कार्यकर्ताओं ने घूम-घूमकर मधेपुरा बंद का जायजा लिया और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार तथा पीएम मोदी के खिलाफ जम कर नारेबाजी की. नेताओं ने कहा कि नई खनन नीति आमजन विरोधी है और इससे लोग परेशान हैं. सरकार हर मोर्चे पर असफल रही है. वे नीतीश कुमार से इस्तीफे की मांग करते हैं.

जाम के दौरान आम लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा. वाहनों के नहीं चलने से आम लोग परेशान दिखे. 

बंद समर्थकों और दुकानदारों के बीच झड़प: इस बीच मधेपुरा जिला मुख्यालय में तुलसी वस्त्रालय के पास बंद समर्थकों और दुकानदारों के बीच झड़प हो गई और दुकानदारों ने बंद समर्थकों का उग्र विरोध कर दिया और इनके खिलाफ मुख्य सड़क पर अवागमन रोक कर टायर जलाकर प्रदर्शन किया. बताया गया कि राजद कार्यकर्ताओं के द्वारा घूम-घूमकर बंद कराने के दौरान यहाँ एक चाय की दूकान खुली थी जिसे बंद कराने के दौरान बहस के बाद दूकान को क्षतिग्रस्त कर दिया गया. इसके बाद कई दुकानदार उग्र हो गए और उन्होंने इसका विरोध करते हुए नरेंद्र मोदी के समर्थन में और लालू यादव के विरोध में नारे लगाए.
(बंद की और ख़बरें कुछ ही देर में...)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...