29 नवंबर 2017

मधेपुरा में 400 पॉउच शराब के साथ दो शराब कारोबारी चढ़े पुलिस के हत्थे

मधेपुरा में झारखण्ड निर्मित मशालेदार शराब के 400 पॉउच के साथ दो शराब कारोबारी गिरफ्तार किये गए हैं. मामले में पुलिस ने 80 लीटर की बड़ी मात्रा में शराब बरामद की है. 

मधेपुरा जिले के भर्राही सहायक थानाध्यक्ष अमित कुमार और स्थानीय पुलिस बलों के सहयोग से गुप्त सूचना के आधार पर मंगलवार की देर रात्रि में थाना क्षेत्र के जीवछपुर गाँव से एक देशी शराब कारोबारी को गिरफ्तार किया गया. गिरफ्तार शख्स के घर से पुलिस ने तलाशी करने पर झारखण्ड निर्मित 400 पीस पॉउच यानी 80 लीटर देशी मशालेदार शराब बरामद किया. 

बता दें कि बिहार में पूर्ण रूपेण शराब बंदी के बावजूद भी मधेपुरा जिले के कई इलाकों में शराब के  तस्कर पुलिस और उत्पाद विभाग की आँखों में धुल झोंककर चोरीछुपे धड़ल्ले से शराब बेच रहे हैं. देशी व विदेशी शराब और कारोबारी महंगे दाम पर बेचकर अपनी-अपनी चांदी काट रहे हैं. वहीं शराब की बिक्री पर रोकथाम को लेकर मधेपुरा पुलिस और उत्पाद विभाग के पसीने छूट रहे हैं. 

बुधवार को गुप्त सूचना के आधार पर भर्राही पुलिस ने दो कारोबारियों को गिरफ्तार किया. इस मामले को लेकर मधेपुरा के एएसपी राजेश कुमार ने बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर भर्राही पुलिस ने थानाध्यक्ष अमित कुमार के नेतृत्व में दोनों शराब कारोबारी के घर छापेमारी कर थाना क्षेत्र के जीवछपुर गाँव से दोनों को रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया है और 80 लीटर देशी मशालेदार शराब जब्त किया है. एक गिरफ्तार शख्स मुरलीगंज थाना क्षेत्र के जीतापुर पंचायत के रामसिंह टोला और दूसरा शख्स स्थानीय थाना क्षेत्र के जीवछपुर गाँव का रहने वाला संतोष यादव बताया जा रहा है. इस मामले में प्राथमिकी दर्ज कर पकड़े गये दोनों कारोबारियों को जेल भेजा दिया गया है.

उधर मधेपुरा एसपी विकास कुमार ने बताया कि गिरफ्तार  सन्तोष  लम्बे  समय से अवैध  शराब के कारोबार  मे लिप्त  है और पुलिस  लंबे समय से इस पर निगाह रखी हुई थी. पुलिस  के द्वारा  ठिकाने पर कार्रवाई  की गयी लेकिन  सफलता नही मिली. पर मंगलवार  को सूचना पर कारवाई  की गई  तो सफलता  मिली है ।  एसपी श्री कुमार ने यह भी बताया कि गिरफ्तार  शराब कारोबारी से पूछताछ  कर  यह पता किया जा रहा है कि झारखंड  से  किस रास्ते से शराब लाया करते हैं और  शराब  की जिले मे सप्लाई कहाँ-कहाँ और किसे करते रहे हैं पुलिस  यह भी पता करने मे जुटी  है कि गिरफ्तार  शराब मफिया के तार कहां और किन लोगों से जुड़े हैं?
(रिपोर्ट: उप संपादक कुमार शंकर सुमन के साथ पीयूष राज) 

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...