23 नवंबर 2017

प्यार झुकता नहीं: प्रेमी-प्रेमिका की जिद के सामने झुके परिजन, हुआ अंतरजातीय विवाह

दो प्रेमियों के अटूट प्यार के सामने आखिरकार परिजनों को झुकना ही पड़ा। समाज के सभी बेड़ियों को तोड़ते हुए प्रेमी और प्रेमिका ने गुरूवार को सुपौल जिले के वीरपुर स्थित राम जानकी मंदिर में एक साथ जीने मरने की कसमें खाकर शादी के बंधन में बंध कर एक मिशाल कायम कर दिया।


 शादी के बाद प्रेमी और प्रेमिका की चहुंओर प्रशंसा हो रही है।
हम बात कर रहे हैं सुपौल जिले के बसंतपुर प्रखंड के निर्मली पंचायत के वार्ड नंबर 06 निवासी 22 वर्षीय प्रदीप कुमार और भगवानपुर पंचायत के वार्ड नंबर 12 निवासी 21 वर्षीय ललिता कुमारी की जिन्होने अंतरजातीय शादी कर नीतीश सरकार के दहेज उन्मूलन अभियान का समर्थन किया है।

नवविवाहित जोड़े ने मधेपुरा टाइम्स को बताया कि वे दोनों पिछले तीन वर्षों से एक दूसरे से प्यार करते आ रहे हैं। अंतरजातीय शादी को लेकर परिजनों में उपापोह की स्थिति बनी हुई थी। आखिरकार उनके अटूट प्रेम के सामने परिजनों की एक नहीं चली। स्थानीय लोगों की पहल पर वीरपुर स्थित राम जानकी मंदिर में दोनों का विवाह वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ करा दिया गया। 

मौके पर मौजूद भगवानपुर पंचायत के मुखिया जय प्रकाश पासवान ने बताया दहेज प्रथा के उन्मूलन को लेकर अभियान चलाए जा रहे है, ऐसे समय मे इस अंतरजातीय विवाह ने दहेज प्रथा पर अपनी जीत को दर्ज की है।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...