12 नवंबर 2017

डीएम ने किया ओडीएफ हेतु एक दिवसीय जागरूकता कार्यशाला का उद्घाटन

मधेपुरा जिले के गम्हरिया प्रखंड मुख्यालय स्थित बभनी पंचायत के पारस मणि उच्च विद्यालय के प्रांगण में लोहिया स्वच्छ बिहार अभियान अंतर्गत खुले में शौच मुक्त (ओडीएफ- Open defecation free) करने हेतु एक दिवसीय जागरूकता कार्यशाला का उद्घाटन दीप प्रज्वलित कर जिला पदाधिकारी मो. सोहैल के द्वारा किया गया. 





साथ ही मौजूद सभी जनप्रतिनिधि व सरकारीकर्मियों ने पूरे प्रखंड को शौच मुक्त करने हेतु संकल्प लिया एवं लोगों को जागरूक करने के लिए सभी आशा, सेविका, सहायिका और जीविका दीदी को कहा गया कि पहले आप अपने-अपने घर में शौचालय बनावाएं और दूसरे को भी शौचालय बनाने के लिए जागरूक करें. वहीं जिला पदाधिकारी ने बताया कि शौचालय के लिए लाभुकों को 12000 का प्रोत्साहन राशि शौचालय बनाने के बाद तुरंत उपलब्ध कराया जाएगा. साथ ही उन्होने शौचालय बनाने के साथ-साथ शौचालय उपयोग करने की भी बात कही. घर के बाहर खेत खलिहान व खाली जगहों पर शौचालय नहीं करने के लिए लोगों से अपील भी की. वहीं बभनी पंचायत के मुखिया माणिक कुमार सिंह ने अपने संबोधन में लोगों से खुले में शौच ना जाने को कहा. और उन्होंने ये भी कहा कि गम्हरिया प्रखंड का बभनी एक ऐसा पंचायत है जहां कि अभी तक लगभग 500 शौचालय का निर्माण हो चुका है. उन्होंने अपने संबोधन में यह भी कहा कि अब जितने भी बचे हुए शौचालयों का निर्माण बाकी है उसे 31 दिसंबर तक पूर्ण कर पूरे बभनी पंचायत को शौचालय मुक्त किया जाएगा. 

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे प्रखंड विकास पदाधिकारी ज्योति गामी ने पूरे प्रखंड के लोगों से कहा कि हमारे समाज के बहू-बेटियों को पहले शौचालय जरूरी है बाद में और कोई काम. उनहोंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि 31 जनवरी तक आप अपने पूरे प्रखंड के आठों पंचायतों को पूरी तरह शौच मुक्त करें. कार्यक्रम में मौजूद प्रखंड प्रमुख शशि कुमार ने पूरे प्रखंड के जनता से कहा कि 31 जनवरी तक प्रखंड के कोई भी पंचायत बिना शौचालय का नहीं रहेगा. और पूरा प्रखंड मुख्यालय शौचालय मुक्त हो जाएगा. 

बीडीओ ज्योति गामी ने कहा कि अस्वच्छता के कारण ही महामारी व विभिन्न प्रकार की बीमारियां फैल रही है. उन्होंने कहा कि सर्वप्रथम अपने घरों को स्वच्छ फिर आस-पड़ोस तब गांव की स्वच्छता जरूरी है इसके लिए यहां-वहां दरवाजे पर कूड़ा-कचड़ा न फेंके. उन्होंने बताया कि जनप्रतिनिधि व आमलोगों के बीच जागरूकता फैलाकर इस अभियान को सफल बनाया जा सकता है. वह स्वच्छता एवं साफ-सफाई के महत्व के बारे में जनसमुदाय को संवेदनशील बनाने, सार्वजनिक स्थानों पर साफ-सुथरा रखने के महत्व व लाभ भी बतायी. 

मौके पर अनुमंडल पदाधिकारी संजय कुमार निराला, डीडीसी मुकेश कुमार, डीपीआरओ कयूम अंसारी, प्रखंड प्रमुख शशि कुमार, विनयकृष्ण प्रसाद प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी गम्हरिया समेत बहुत से ग्रामीण मौजूद थे.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...