03 नवंबर 2017

फिर बड़ी सफलता: भारी मात्रा में हथियार के साथ दो कुख्यात गिरफ्तार

मधेपुरा जिला के चौसा थाना अंतर्गत गरैया टोला से किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के लिए बनाए जा रहे रणनीति तैयार करने के दौरान अपराधी और बड़ी मात्रा में हथियार पकड़ाए गए हैं.

अपराधियों द्वारा रणनीति तैयार करने की जानकारी मिलने पर, कई हत्याओं, फिरौती और लूट के मामले में फरार कुख्यात अपराधी कारेलाल मंडल तथा उसका पुत्र लड्डू मंडल को चौसा थाना अध्यक्ष ने चार देशी पिस्तौल, एक देशी बन्दूक, थ्री फिफ्टीन बोर का छब्बीस जिन्दा कारतूस, 1 थ्री जीरो थ्री बोर का जिन्दा कारतूस और चार खोखा के साथ गिरफ्तार किया. 

गिरफ्तारी के बाद उनलोगों को जेल भेज दिया गया है. आज चौसा में पुलिस अधीक्षक विकास कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर नवगछिया, पूर्णिया एवं मधेपुरा जिला के हत्या, लूट एवं अन्य कई कांडों के फरार अपराध कर्मी कारेलाल मंडल किसी गंभीर घटना को अंजाम देने की नियत वाले लड्डू मंडल को चौसा थाना अंतर्गत गौरैया टोला से, चौसा थाना अध्यक्ष सुमन कुमार सिंह को गुप्त सूचना मिली थी कि कुछ लोगों के द्वारा किसी बड़े घटना को अंजाम देने के लिए रणनीति तैयार की जा रही है.

जिसकी सूचना पाते ही थाना अध्यक्ष सुमन कुमार सिंह, चौसा थाना के पुलिस कर्मी और अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अरुण कुमार दुबे को जानकारी देकर एक टीम गठित की गई, जिसमें पुरैनी पुलिस अध्यक्ष राजेश कुमार रंजन तथा चौसा थाना अध्यक्ष सुमन कुमार सिंह के द्वारा छापेमारी दल तैयार किया गया तथा चौसा थाना अंतर्गत गरैया टोला से विभिन्न विभिन्न थाने के कांड में संलिप्त फरार कुख्यात अपराधी कारेलाल मंडल तथा उसके पुत्र लड्डू मंडल को चार देशी पिस्तौल तथा एक देसी बंदूक, 27 जिंदा कारतूस और चार खोखा के साथ गिरफ्तार कर लिया गया है. कारे लाल मंडल के ऊपर विभिन्न थानों में दर्जनों मामले दर्ज हैं.
 
कहाँ कौन सा मामला? 1. चौसा थाना कांड संख्या-81/98 में दफादार कपिलदेव शर्मा चौसा थाना, की हत्या. 2. चौसा थाना कांड संख्या-92/98 में खुरखुरी शर्मा सा०- कदवा की हत्या. 3. नवगछिया (कदवा) थाना कांड संख्या- 222/05 में महंत शर्मा सा०- खैरपुर की हत्या 4. ढोलबज्जा थाना कांड संख्या-48/15 में केशो शर्मा सा०- खैरपुर की हत्या 5. चौसा थाना का०सं०-65/04 दिनांक 02.09.04 धारा 25(1-बी)ए/26आ०ए० 6. चौसा थाना का०सं०-08/06, दिनांक- 02.03.06 धारा- 145/148/149/341/323/348/380/504 भा०द०वि० एवं 27आ०ए० 7. नवगछिया न्यायालय का जी.आर सं०-362ए/02 धारा 364 ए/120 बी भा०द०वि० 8. चौसा थाना का०सं०- 88/08 दि०- 25.07.08 धारा-25(1-बी)ए/26 आ०ए० 9. चौसा थाना का० सं०-19/11 दि०- 01.03.11 धारा 379 भा०द०वि० आदि मामलें विभिन्न थाने में दर्ज है और इसमें मधेपुरा पुलिस को लगातार कामयाबी मिल रही है. देखा जाए तो अपराधिक घटना में यह पुलिस के लिए यह बहुत बड़ी सफलता है.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...