06 अक्तूबर 2017

बिहारीगंज में RSS ने मनाया शरद पूर्णिमा दिवस

मधेपुरा जिले के बिहारीगंज में स्थानीय चमेली देवी सरस्वती शिशु मंदिर के प्रांगण में आरएसएस बिहारीगंज के तत्वाधान में शरद पूर्णिमा दिवस मनाया गया। इस मौके पर सुबह 5:30 बजे से 7:30 तक बाल, युवा एंव प्रौढ शाखा संचालित किया गया।

शाखा में कई प्रकार के खेल, कराटे, अश्त्र, शस्त्र आदि के बारे में बताया गया।  बाद में शरद पूर्णिमा पर्व के बारे में विभाग प्रमुख जीवन कुमार का बौद्धिक हुआ जिसमें उन्होंने पर्व की विशेषता व उसके मिठास का वर्णन करते हुए समाज को आईना दिखाया। उन्होंने बताया कि जिस प्रकार दूध मे चावल देने से खीर नहीं बनता उसके लिए चीनी की आवश्यकता होती है, तब खीर पूर्ण बनता है,और मिठास भी आती है। उसी प्रकार आज हमारे समाज की स्थिति है,छूआछूत व भेदभाव के भ्रम में हमारा समाज भटक कर अपनी मिठास को अलग कर रखा है। जबतक हम उन्हें गले नहीं लगाएगें तबतक हमारा समाज परिपूर्ण नहीं होगा। मुगलों, अंग्रेज़ी हूकूमतों ने हमारे समाज में भेद पैदा कर हिन्दुस्तान पर राज किया। अब समय आ गया है हम पिछली गलतियों से सबक लेकर वर्तमान व आने वाली भावी पीढी का भविष्य सुरक्षित कर भारत को पुनः विश्व गुरु बनाए। बौद्धिक के पूर्व अमृत वचन व व्यक्तिगत गीत शिवराज व अनुपम के द्वारा कहा गया। वहीं परिचय गोपाल जायसवाल व प्रार्थना बोद्धनारायण रिषिदेव के द्वारा कहा गया।
मौके पर मुख्य शिक्षक सत्येन्द्र जी, नगर कार्यावाह गोपाल जायसवाल, सह नगर कार्यावाह संजय सेठिया, रिंकू सिंह व नगर संचालक मालचंद जी, अधिवक्ता सुबोध कुमार सिंह, भाजपा युवा मोर्चा के मधेपुरा जिलाध्यक्ष मंटू यादव, मंडल अध्यक्ष भाजपा  विपीन कुमार, ज्वायंन्ट आरएसएस के विभाग प्रमुख गोल्डेन जी, के अलावे स्वयंसेवक बजरंग लखौटिया, श्याम कुमार, कुलकुल सिंह, मुनचुन, बंटी कुमार आदि उपस्थित थे।
(रिपोर्ट: रानी देवी)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...