31 अक्तूबर 2017

BNMU: विश्वविद्यालय के खिलाफ विभिन्न छात्र संगठन उतरे सड़क पर, जाम और प्रदर्शन

मधेपुरा के बीएनएमयू में डिग्री पार्ट-I की परीक्षा अचानक स्थगित कर दिए जाने के बाद छात्रों के द्वारा विरोध प्रदर्शन लगातार दूसरे दिन भी जारी रहा. आज एबीवीपी, छात्र राजद, एनएसयूआई, छात्र जाप आदि के कार्यकर्ताओं ने सैकड़ों की संख्यां में विश्वविद्यालय के समक्ष प्रदर्शन शुरू कर दिया. 

बताया गया कि कल ही विभिन्न छात्र संगठनों ने विश्वविद्यालय बंद का आह्वान करते उग्र प्रदर्शन की चेतावनी दी थी. आज छात्रों ने NH-107 को कई घंटे जाम कर दिया. विभिन्न छात्र संगठनों का कहना था कुलपति खुद विदेश दौरे पर है, प्रतिकुलपति महोदय को विभिन्न कार्यक्रमों का उद्घाटन करने से फुर्सत ही नहीं है, जो विश्वविद्यालय की ओर उनका ध्यान जायेगा.

उनका कहना था कि मात्र दो कॉलेज की गलतियों की वजह से पूरे विश्वविद्यालय की परीक्षा को रद्द कर देना छात्रों के भविष्य के साथ साजिस रची जा रही है. आर.के.के. कॉलेज और आर.के. कॉलेज पर कार्यवाही करके उसका समाधान निकाला जाना चाहिए था लेकिन विश्वविद्यालय प्रशासन कोई भी उपाय नहीं निकाली और जो सत्र दो से ढाई साल लेट है उस परीक्षा को भी वो परीक्षा से पूर्व रात्रि में आदेश निकालकर रद्द कर देना विश्वविद्यालय प्रशासन की लापरवाही और तानाशाही को दर्शाता है. प्रतिकुलपति बिना बताये सोमवार को छुट्टी देकर यहाँ विश्वविद्यालय को छोड़कर भाग जाते हैं. जबकि छात्र उग्र थे और बात करना चाहते थे. जब उनसे विश्वविद्यालय नहीं संभलता है तो इस्तीफा दे देनी चाहिए. 

मौके पर एबीवीपी के विभाग संयोजक रंजन यादव, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य अभिषेक यादव, जिला संयोजक ईसा असलम, नगरमंत्री शशि यादव, विश्वविद्यालय कैंपस अध्यक्ष प्रवीण कुमार, उपाध्यक्ष मनीष कुमार, नगर सहमंत्री नीतीश यादव, आमोद कुमार, एनएसयूआई के जिला अध्यक्ष निशांत यादव, मुकेश कुमार, छात्र राजद के विश्वविद्यालय अध्यक्ष संजीव कुमार, जिला अध्यक्ष रितेश कुमार यादव, जापानी यादव, प्रदीप कुमार, मणिकांत कुमार, छात्र जाप के प्रदेश उपाध्यक्ष हिमांशु शेखर, जिला अध्यक्ष रौशन कुमार बिट्टू, रामप्रवेश कुमार सहित सैकड़ों की संख्यां में छात्र आन्दोलन कर रहे थे.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...