30 अक्तूबर 2017

मधेपुरा: विकास कार्यों को लेकर जिलाधिकारी की अध्यक्षता में समीक्षात्मक बैठक

सोमवार को डीआरडीए स्थित झल्लू बाबू सभागार में जिलाधिकारी मो० सोहैल की अध्यक्षता में समीक्षात्मक बैठक की गई । जिसमें जिलाधिकारी द्वारा सत्य निष्ठा प्रतिज्ञा की शपथ दिलाई गई एवं अनुरोध किया गया कि अपने जीवन मे ईमानदारी से काम करे ।


जिला पदधिकारी द्वारा लोक शिकायत निवारण की समीक्षा की गई । समीक्षा में सभी पदाधिकारियों को लम्बित मामलों के निष्पादन के लिए निर्देश दिया गया। प्रधानमंत्री आवास योजना की समीक्षा में जिलाधिकारी महोदय ने निर्देश दिया कि सही तरीके से आवासों का आवंटन किया जाय।

शौचालय निर्माण समीक्षा में जिलाधिकारी द्वारा सभी बीडीओ को वार्डों को ओडीएफ हेतु कहा गया एवं निर्माण किये गए शौचालयों के अविलम्ब भुगतान हेतु निर्देशित किया गया।

जिलाधिकारी द्वारा गली नली योजना में ब्रिक्स सोलिंग एवं मिट्टी का कार्य मनरेगा से करने का निर्देश दिया गया एवं सभी बीडीओ को निर्देश दिया गया कि इसकी एक सूची जिला पंचायती राज पदाधिकारी समर्पित करे ताकि मनरेगा से इसका प्राक्कलन तैयार कर अग्रतर कार्रवाई की जा सके।

जिलाधिकारी द्वारा कन्या विवाह योजना में लाभुक को राशि हस्तांतरित कर यूसी देने को कहा गया।

समीक्षात्मक बैठक में जिला शिक्षा पदधिकारी द्वारा बताया गया कि 1 नवम्बर 2017 तक जिले के सभी उच्च विद्यालयों में शिक्षक, शिक्षिकाओं, छात्र -छात्राओं का उपस्थिति बायो मेट्रिक सिस्टम से किया जाएगा। उच्च विद्यालयों में शिक्षकों के खाली पदों को भरने के लिए रेन्डेमाईजेशन  कर सूची तैयार कर ली गयी है।

जिलाधिकारी द्वारा उच्चतर माध्यमिक विद्यालयों में विज्ञान प्रयोगशाला स्थापित करने का निदेश डीपीओ स्थापना को दिया गया । प्रयोगशाला स्थापित करने के लिए विकास मद से रुपया खर्च करने का निर्देश दिया गया। जिलाधिकारी ने कहा अगर विकास मद में राशि नही है तो छात्रों से नामांकन के समय मे प्रयोगशाला के नाम पर कुछ राशि ले कर प्रयोगशाला को चालू कराया जाय।प्रयोगशाला को अंतिम घंटी में चलाने का निर्देश जिलाधिकारी महोदय द्वारा दिया गया।

डीपीओ द्वारा मुरलीगंज के एक छात्रावास की जांच में अनाधिकृत रूप से रह रहे लोगों की रिपोर्ट पर जिलाधिकारी महोदय द्वारा निर्देश दिया गया कि जितने भी सरकारी भवनों मे लोग रह रहे है उनसे  किराया वसूला जाय। अगर सरकारी कर्मी है तो उनसे भी किराया लिया जाय अन्यथा उसे हाउस रेंट नही दिया जाय। इस सम्बंध में नजारत उपसमाहर्ता को जिलाधिकारी द्वारा निर्देश दिया गया।

जिला पदधिकारी द्वारा आपदा में मरने वालों के आश्रितों को आपदा अनुदान की राशि देने का निर्देश दिया है। इस आपदा राशि  देने में जिलाधिकारी द्वारा विशेष रूप से निर्देश दिया है ।उन्होंने कहा है कि अगर किसी परिवार में पत्नी की मौत हो जाती है तो उसके पति को वो राशि न देकर उनके बच्चों को दिया जाय। अगर बच्चे नाबालिग है तो उनके नाम से वह रुपया बैंक में फिक्स किया जाय।

जिला पदाधिकारी द्वारा उत्पाद अधीक्षक व सदर मधेपुरा के बीडीओ सीओ को निर्देशित किया गया कि जिला मुख्यालय में ब्रेथ एनेलाइजर से शराबियों की जांच लगातार होना चाहिए। बताया कि बीती रात जांच में 10 लोगो को गिरफ्तार किया गया है।

बैठक में एडीएम मुर्शिद आलम, डीडीसी मिथलेश कुमार, एसडीएम संजय निराला, एसजेड हसन  आदि सभी वरीय पदाधिकारी के अलावे सभी बीडीओ सीओ तथा सम्बंधित विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...