19 सितंबर 2017

न्याय कहाँ है? यौन शोषण की शिकार ने दिया बच्ची को जन्म और भटक रही दर-दर

मधेपुरा में एक मासूम बच्ची को है न्याय की दरकार. कैसे मिलेगा इस मासूम को पिता का नाम और ये घटना सिस्टम और सरकार पर एक बड़ा सवाल उठा रहा है.


बताया गया कि पिछले 10 माह से न्याय की ग़ुहार लगा रही यौन शौषण की शिकार पीड़िता और उसकी बच्ची न्याय की आस में दर-दर की ठोकरें खा रही है. दस माह बाद भी जहाँ पुलिस के  हाथ खाली हैं वहीँ गाँव छोड़कर आरोपी फरार है. परिजनों की माने तो पुलिस रिश्वत लेकर नहीं कर रही है आरोपी पर कोई कार्रवाई और उलटे पीड़ित परिजनों को धमकी भी मिल रही है. 

जानकारी के अनुसार मधेपुरा जिले के मुरलीगंज थाना क्षेत्र अंतर्गत सिंगियोंन पंचायत के धरहरा रानीपट्टी दास टोला गाँव की रहने वाली यौन शोषण की शिकार अल्पसंख्यक जाति की एक युवती पिछले 10 माह से पंचायत सरकार भवन से लेकर जिले के महिला थाना और पुलिस के वरीय अधिकारी से न्याय की गुहार लगा रही है, लेकिन इस मामले को लेकर मधेपुरा पुलिस के अधिकारी बेफिक्र नजर आते हैं. दरसअल आज से 10 माह पूर्व जिले के मुरलीगंज थाना क्षेत्र अंतर्गत सिंगियोंन पंचायत के रानीपट्टी दास टोला गांव के ही एक मदरसे में पढ़ रही युवती के साथ गांव के ही एक मनचले शख्स ने शादी का झांसा देकर लगातार कई वर्षों तक यौन शौषण किया. जब पीड़िता गर्भवती हो गयी तो दिल्ली में दो वक्त की रोटी कमा रहे पीडिता के पिता को इस बात की भनक लगी और पिता ने गाँव पहुंचकर पंचायत के न्यायपालिका से गुहार लगाई. गाँव में कई बार पंचायत के बाद पीड़ित परिजन ने थाना में आरोपी शख्स के विरुद्ध मामला दर्ज कराया. 

हद की इंतहा तो यह है कि माह जनवरी वर्ष 2017 को ही पीड़िता के परिजनों ने जिला मुख्यालय के महिला थाना में मामला दर्ज करवाया, लेकिन आज तक पुलिस के अधिकारी एक ही रटा रटाया जबाब दे रहे हैं कि पुलिस कर रही है अनुसंधान. उधर बेबस पीड़िता न्याय की ग़ुहार लगाकर लगातार अपने पेट मे पालती रही नालायक पिता के बच्चे, पीडिता ने 09 माह बाद अपने पेट में पल रहे बच्चे को जन्म देकर अब अपने गोद में मासूम बच्ची को लेकर एक बार फिर से  स्थानीय पुलिस प्रशासन और सूबे की सरकार से मांग रही है न्याय की भीख. 

आखिर अब कौन होगा पीड़िता के बच्ची का पिता? सिस्टम और सरकार पर उठ रहा है एक बड़ा सवाल. क्या इन बिना पिता के बच्ची को मिल पाएगा उसके पिता का नाम? महिलाओं को न्याय दिलाने के बड़े-बड़े दावे करने वाली सरकार इस लड़की और उसके गोद में पल रही बच्ची को न्याय दिलाने में सक्षम होगी?

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...