13 सितंबर 2017

सुपौल: रेप के आरोपी को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर महिला का थाना में हंगामा

सुपौल। महिला थाना परिसर में मंगलवार की रात उस वक्त अफरा-तफरी का माहौल पैदा हो गया जब सदर थाना क्षेत्र स्थित महुआ गांव के करीब ढाई तीन सौ लोग थाने पहुंच कर हो-हंगामा करना शुरू कर दिया।


हंगामें में शामिल लोग रेप पीड़िता के आरोपी को गिरफ्तार करने की नारे लगा रहे थे। थाने में मौजूद पुलिस कर्मी जब तक मामले को समझ पाते तब तक प्रदर्शनकारियों का हूजूम पूरे थाना परिसर को घेर लिया। प्रदर्शनकारियों का आरोप था कि पुलिस रेप के आरोपी को बचाने की फिराक में लगी हुई है।

दरअसल, हंगामे का मामला बीते 08 सितम्बर को महुआ गांव के एक रेप के मामले से जुड़ा है। जहां एक 22 वर्षीय युवक पर अपने ही 15 वर्षीय नाबालिग बुआ के साथ जबरन रेप करने का आरोप लगा था। जिसको लेकर पीड़िता के परिवार की ओर से महिला थाना में रेप का मामला दर्ज कराया गया था। चार दिन बीतने के बाद भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं किये जाने पर लोगों का गुस्सा सातवें आसमान पर था। जिस कारण करीब दो घंटों तक थाना में हंगामा होता रहा।

थाने में हंगामे की वजह के संबंध में बताया जाता है कि मंगलवार को आरोपी के परिजन पीड़िता के परिवार को आरोपी युवक से निकाह करने का दवाब दिया जा रहा था। जिसकी जानकारी महिला थाना पुलिस को दी गई थी। बावजूद पुलिस द्वारा शिथिलता बरते जाने पर लोगों में आक्रोश बढ गया।

हालांकि सदर डीएसपी विद्यासागर की सूझबूझ के कारण मामला शांत हो पाया। डीएसपी के नेतृत्व में दर्जनों पुलिस के जवानों ने तत्काल महुआ गांव के लिए प्रस्थान किया। तब जाकर हंगामें में शामिल लोग अपने-अपने घर को वापस हुए।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...