01 सितंबर 2017

फसल क्षति के आकलन के लिए एक दिवसीय सेमिनार, डीएम ने दिए कई निर्देश

मधेपुरा में फसल क्षति के आकलन के लिए एक दिवसीय सेमिनार का आयोजन कला भवन में किया गया. सेमिनार में जिला पदाधिकारी मोहम्मद सोहैल ने उपस्थित सभी कर्मियों को संबोधित करते हुए कहा कि विगत दिनों बाढ़ से जिले में जान माल की काफी हानि हुई है.

और इसके साथ -साथ फसल का भी काफी नुकसान हुआ है. सरकार के आपदा प्रबंधन मद से जिले में सभी किसानों को फसल क्षति का मुवजा प्रदान करने हेतु राशि का आवंटन कर दिया गया है और सभी प्रखंडों में किसानों से कैम्प लगा कर आवेदन भी ले लिया गया है. 

जिलाधिकारी ने निर्देश दिया है कि अंचल में कार्यरत किसान सलाहकार आवेदन की जाँच कर और फोटोग्राफी करा कर प्रखंड कृषि पदाधिकारी को रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगे एवं प्रखंड कृषि पदाधिकारी और सहकारिता प्रसार पदाधिकारी आवेदन को सत्यापित कर अंचलाधिकारी को रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगे. जिलाधिकारी ने सख्त निर्देश दिया कि इस कार्य को 6 सितम्बर से 14 तक पूर्ण करना सुनिश्चित करें. अगर इस कार्य में किसी तरह की धांधली की शिकायत मिली तो अविलंब उक्त कर्मी पर कार्रवाई की जायेगी. इस अवसर पर जिलाधिकारी ने उपस्थित सभी कार्यपालक सहायकों को भी निर्देश दिया कि किसानों के बैंक संबंधी जानकारी में कोई भी त्रुटि नहीं होनी चाहिए. 

इस अवसर पर जिला कृषि पदाधिकारी, जिला सहकारिता पदाधिकारी, प्रखंड कृषि पदाधिकारी, सहकारिता प्रसार पदाधिकारी एवं जिले के सभी किसान सलाहकार और कार्यपालक सहायक उपस्थित थे.
(रिपोर्ट: विकास कुमार सिन्हा)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...