24 सितंबर 2017

आरएसएस की 93वीं वर्षगांठ पर निकला पथ संचलन

सुपौल। विजयादशमी उत्सव के मौके पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ जिला ईकाई द्वारा रविवार को नगर में पथ संचलन निकाला गया।


शहर के विजय भारती होटल परिसर से सैकड़ों स्वयंसेवकों का जत्था रवाना हुआ। यह जत्था शहर मुख्य मार्गों का भ्रमण करते हुए पुनः कार्यक्रम स्थल पहुंचा जहां संचलन को समाप्त कराया गया।
कार्यक्रम स्थल पर स्वयंसेवकों द्वारा ध्वज प्रणाम के साथ संघ प्रार्थना की गई। जिसके बाद शस्त्र पूजन एवं बौद्धिक कार्यक्रम का आयोजन भी किया गया।

बौद्धिक कार्यक्रम के मुख्य वक्ता कोसी विभाग प्रचारक संतोष कुमार ने कहा कि आज संघ अपनी 93 वीं वर्षगांठ मना रही है। संघ के 06 उत्सवों में से विजयादशमी उत्सव मुख्य उत्सव है। उन्होंने कहा कि हिंदुओं को संगठित करने के उद्देश्य से संघ की स्थापना की गई थी। संगठित हिंदू,  समर्थ भारत,  सुरक्षित भारत संघ के अवधारणा में शामिल है। 

विभाग प्रचारक ने कहा कि जब जब हिंदू घटा देश बंटा है। इसका उदाहरण पाकिस्तान है। जहां हिंदुओं की आबादी कम है वह क्षेत्र आज आतंकवाद, नक्सलवाद एवं माओवाद से त्रस्त है। 

जिला कार्यवाह विजय कुमार भुसकुलिया,  भोलेश्वर मुखिया, संतोष अग्रवाल, विकास कुमार,  किशोर कुमार मुन्ना सहित संघ के विविध संगठनों के स्वयंसेवक मौजूद थे।

इधर मधेपुरा में भी स्वयंसेवकों का जत्था जिला मुख्यालय की सड़कों पर भ्रमण किया.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...