30 सितंबर 2017

और मधेपुरा में धू-धू कर जल उठा रावण (देखें रावण दहन का वीडियो)

असत्य पर सत्य की विजय, बुराई पर अच्छाई की, पाप पर पुण्य की जीत का प्रतीक रावण दहन मधेपुरा में संपन्न हो गया. विशालकाय रावण के पुतले को हजारों लोगों ने धू-धू कर जलते देखा.


मधेपुरा जिला मुख्यालय के रेलवे स्टेशन परिसर में बड़ी भीड़ की मौजूदगी में प्रतीकात्मक रावण दहन मधेपुरा के सदर एसडीओ संजय कुमार निराला के हाथों संपन्न हुआ.

इससे पहले करीब 4 बजे शाम से ही लोगों की भीड़ रेलवे स्टेशन दुर्गा मंदिर परिसर में जमा होनी शुरू हो गई थी. शाम छ: बजे तक परिसर और आसपास के इलाकों में रावण दहन को देखने कई हजार लोग जमा हो चुके थे. पुलिस भी पुख्ता व्यवस्था के बीच राम के रूप में मधेपुरा एसडीओ ने रावण को आग के हवाले कर दिया तो तालियों के शोर से परिसर गूँज उठा. 

इस मौके पर मधेपुरा नगर परिषद् के उप मुख्य पार्षद अशोक कुमार यदुवंशी, ध्यानी यादव, रामोतार यादव समेत बड़ी भीड़ मौजूद थी.

जाहिर है बुराई का नाश कर अच्छाई की जीत पर लोगों का खुश होना लाजिमी था. पर एक बड़ा सवाल उभरता है कि क्या सिर्फ प्रतीकात्मक रावण को जला कर हम समाज में अच्छाई ला सकते हैं या फिर हम सबको मिलकर समाज से हर बुराई और भ्रष्टाचार रूपी रावण का बध करना पड़ेगा?

 देखिये इस वीडियो में कैसे धू-धू कर जल गया रावण, यहाँ क्लिक करें.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...