03 सितंबर 2017

‘जाएँ तो जाएँ कहाँ’: बैंक का चक्कर लगाकर परेशान हैं पेंशनधारी

मधेपुरा जिले के गम्हरिया प्रखंड मुख्यालय के लोग पेंशन के लिए कोसों दूर पैदल चलकर आने के बाद भी बैंक से निराश होकर लौटते हैं.


गम्हरिया प्रखंड क्षेत्र के सभी पेंशनधरियों ने बताया कि पिछले कई महीनों से पेंशन को लेकर प्रखंड कार्यालय व बैंक के चक्कर लगाते हुए थक चुके हैं मगर निराश होकर घर लौटना पड़ता है. पेंशनधरियों ने बताया कि पूर्व में हम लोगों को पेंशन पंचायत सेवकों के द्वारा निर्धारित समय पर पेंशन हाथो हाथ मिल जाता था. मगर जब से बैंक के द्वारा पेंशन देने की बात की गई है तब से लेकर आज तक बैंक में खाते को चेक कर रहे हैं मगर पेंशन का पैसा खाता में नही आया है. 

यही नहीं, पेंशन के पैसे की बात जब बैंक कर्मियों के से पूछते हैं तो बताया जाता है कि प्रखंड कार्यालय में जा कर पूछें. जब प्रखंड कार्यालय जाते हैं तो वहाँ कहा जाता है कि बैंक में जाकर पता कीजिए. ऐसे चक्कर लगाते लगाते वृद्धा पेंशन के साथ-साथ सभी प्रकार के पेंशनधारियों को निराश होकर घर लौटना पड़ता है. पेंशनधारी रजिया खातून, कृष्णा देवी, बिन्देश्वरी मेहता, सरयुग ठाकुर, आदि सभी वृद्धों का लगभग यही कहना था.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...