12 सितंबर 2017

सम्पूर्ण जिले को न्यायसंगत बनाने के लिए काम करेंगे पीएलवी: प्रथम प्रशिक्षण प्रारंभ


जिला एवं सत्र न्यायाधीश, मधेपुरा के आदेशानुसार NLSA (National Legal Services Authority) के अंतर्गत नवनियुक्त PLV- Para Legal Volunteer का प्रथम प्रशिक्षण समिधा ग्रुप में 12/09/2017 को 11:00 PM में शुरू हुआ.

वक्ता के तौर पर समिधा ग्रुप के सचिव संदीप शाण्डिल्य ने प्रोजेक्टर और प्रेजेंटेशन के माध्यम से लगभग 100 पी.एल.वी. को प्रशिक्षित किया. विस्तृत जानकारी देते हुए संदीप शाण्डिल्य ने कहा कि Para Legal Volunteer अपने सम्पूर्ण जिले को न्यायसंगत बनाने के लिए काम करेगी. PLV को अपने-अपने पंचायत में काम करना होगा जो समाज के अंतिम पायदान पर खड़े लोगों को हर संभव क़ानूनी सहायता प्रदान करेगी. PLV वेश्यावृति, नशा उन्मूलन, दहेज़ प्रथा, बाल श्रम आदि के खिलाफ भी काम करेगी. जरुरत पड़ने पर वे इनमें पुलिस की मदद भी ले सकती हैं. PLV जेल या हाजत जा कर व्यवस्था देखने के लिए भी अधिकृत होगी. गरीबों की शिक्षा, नारी उत्थान, सामाजिक जागरूकता आदि को लेकर भी समाज में काम करेगी.

न्याय मित्र और जिला विधिक सेवा प्राधिकार मधेपुरा के सचिव श्री नवीन कुमार ठाकुर ने अपने संबोधन में कहा कि NLSA/BLSA को लेकर समाज में जागरूकता फ़ैलाने के उद्येश्य से इसे क्रियान्वित किया हैं. हरेक Volunteer के साथ पुरे सिस्टम के तौर पर जिला न्यायालय, हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट खड़ा हैं अतः इन्हें निर्भीक हो कर समाज सेवा के लिए निःस्वार्थ भाव के काम करना हैं. यह भी ध्यान रखना हैं कि कोई भी Volunteer इसका गलत इस्तेमाल नहीं कर सके. समाज के अंतिम पायदान पर खड़े लोगों को निःशुल्क न्यायिक सुविधा पहुंचाना ही इसका उद्येश्य है. अगर कोई Volunteer गलत काम में संलिप्त होंगे या दुर्भावना से किसी खास लोगों की मदद करते नजर आएंगे तो उनके विरोध में भी क़ानूनी करवाई की जाएगी. साथ ही सभी Volunteer के सहमति पर यूनिफार्म पहनने और आई. कार्ड पर भी सहमति जताई गई.

मौके पर विजय कुमार यादव, रिटेनर अधिवक्ता, पूर्व PLV महेश राम, रामदेव कुमार रमण, विधिक कार्यालय से भार्गव, राजकुमार, अजित कुमार सहित मनीष, शिवशंकर, विरेश सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...