23 सितंबर 2017

क्या अब मधेपुरा में लोग नल नहीं, नाले का जल पीयेंगे ?: पाइप में भर रहा नाले का पानी

मधेपुरा जिला मुख्यालय में शहर के वार्ड नम्बर उन्नीस के निवासियों के साथ अन्याय करते हुए डूडा ने दो वर्ष पूर्व मुख्य मार्ग के बगल में निर्मित अच्छे भले नाले कॊ उखाड़ कर ऐसा नाला बना दिया जो वार्ड वासियों के लिये अभिशाप बन चुका है ।


अब इस नाले के बगल में मुख्यमंत्री की महत्वाकांक्षी योजना घर घर नल का जल योजना के तहत जो जलापूर्ति के लिये पाइप बिछाने के लिये गडढा खोदा जा रहा है, उसमें बगल के नाले का घटिया निर्माण के कारण लीक कर रहा पानी भर जा रहा है । आश्चर्य की बात यह है कि नाले के गंदे जल से भरे गड्ढे में ही पाइप बिछाने का काम जारी है । अब इसी पाइप से मुख्यमंत्री जी के महत्वाकांक्षी योजना के तहत घर घर नल का स्वच्छ जल के बदले नाले का जल पहुँचाया जायेगा ।

छह करोड़ रू खर्च कर डूडा का घटिया निर्माण: बिना नगर परिषद के वार्ड पार्षदों से विचार विमर्श किये डूडा ने शहर में छह करोड़ रू की  लागत से सात फीट गहरा और मात्र ढाई इंच चौड़ी ढलाई का ऐसा नाला बना दिया जिसमें असंख्य छिद्र हैं । इस नाले कॊ कर्पूरी चौक तक ही बनाकर खुला छोड़ दिया गया । नाले का कोई निश्चित स्तर भी नही है । नाले के अंदर की सफाई भी नही की गयी और यह नाला पूरी तरह जाम भी है । इसकी सफाई के लिये कही कोई व्यवस्था नही है । लिहाजा नगर परिषद कर्मी इसकी सफाई भी नही कर पाते । इस नाले का पानी ओवर फ्लो करके वार्ड वासियों के घरों में जाता है । जब इस नाले के बारे में खूब शिकायत हुए तो जिला प्रशासन ने इसकी जाँच करवा कर पाया कि नाले के अंदर पनिँग भी नही है । लेकिन फ़िर भी कोई कारवाई नही कर सारा विपत्र पास कर लूट कॊ ही प्रोत्साहित किया गया ।

अब घर घर नल का जल का भी यही होगा अंजाम: अब तक इस वार्ड के वासी नाले से परेशान थेऔर अब नल के जल से परेशान होंगे । नल के जल में जब अभी ही नाले का गंदा जल जब कब्जा ज़माने में सफल हो गयी तो आगे तो भगवान ही मालिक है ।

वार्ड पार्षद कंचन कुमारी बताती है कि जनता की  मेहनत की कमाई से टैक्स लेकर सरकार जनता की सुविधा के लिये विकास योजनायें देती हैं लेकिन उसके कार्यान्वयन में स्थानीय विभागीय पदाधिकारी बेपरवाह होकर सिर्फ लूट का काम कर रहे हैं । हमलोगों की कोई नही सुन रहा है । सुबह से ही कई बार डूडा के पदाधिकारी से बात कर चुकी हूँ लेकिन वे सिर्फ टाल रहे हैं । अब जनता कॊ आगे आना होगा ।अगर वे घटिया नाले के बाद अब नाले का जल ही पीने के लिये बाध्य किये जा रहे हैं तो इसे हमलोग बर्दाश्त नही करेंगे । जिला प्रशासन से मेरी गुजारिश है कि समय रहते इस समस्या कॊ स्वयं देख कर उसे दूर करे अन्यथा हमलोग बाध्य होकर सड़क पर उतरेंगे ।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...