23 सितंबर 2017

पंचायत शिक्षक नियोजन में फर्जीवाड़ा कर हुई बहाली !

मधेपुरा जिला के पुरैनी प्रखंड अंतर्गत वंशगोपाल पंचायत में वर्ष 2003 में पंचायत नियोजन इकाई को झांसा देकर जन्म तिथि में हेराफेरी कर शिक्षामित्र बनने का मामला प्रकाश में आया है। 

पंचायत शिक्षक नियोजन मे फर्जीवाड़ा कर शिक्षामित्र बहाल होने को लेकर नियोजन प्रक्रिया से जुड़े एक अन्य आवेदक ने वरीय अधिकारियों को आवेदन देकर यह आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की है। 

क्या है मामला -प्रखंड के वंशगोपाल पंचायत के भटौनी निवासी आवेदक मु. रकीब ने आवेदन में कहा है कि वर्ष 2003 में शिक्षामित्र के लिए वंशगोपाल पंचायत में अत्यन्त पिछड़ा वर्ग से उर्दू कोटि के लिए एक पद आवंटित था। इसके लिए मोहम्मद शमीम अख्तर के अलावा वे भी आवेदक थे। पंचायत नियोजन इकाई ने मेघा सूची में अव्वल रहने वाले अभ्यर्थी मोहम्मद शमीम अख्तर का नियोजन उर्दू प्राथमिक विद्यालय भटौनी में कर दी। उसके बाद एक रिश्तेदार ने जब अपने कार्य के लिए वर्ष 2001 के फोकानियां (मैट्रिक) का टीआर बोर्ड कार्यालय से निकाल कर लाया तो उसमे रोल नंबर -0007 में मोहम्मद शमीम अख्तर, पिता -मोहम्मद शफदर अली का भी नाम था। इसमें उसकी जन्म तिथि 03-02-1986 अंकित था। जबकि नियोजन के समय जमा कराए गए विद्यालय परित्याग प्रमाण पत्र में जन्म तिथि 03-02-1976 के आधार पर उसका नियोजन किया गया था। जबकि बाद में जब उसके वर्ष 2005 के मौलवी (इंटर) के टीआर से जन्म तिथि का मिलान किया गया तो उसमें भी उनकी जन्म तिथि 03-02-1986 ही पाया गया। इससे स्पष्ट जाहिर होता है कि उसने नियोजन के समय जन्म तिथि में हेराफेरी कर पंचायत नियोजन इकाई को झांसा देकर शिक्षामित्र बनने में कामयाब रहे हैं। इस बाबत मोहम्मद रकीब ने सम्पूर्ण साक्ष्य के साथ बीईओ, बीडीओ पुरैनी, एसडीओ उदाकिशुनगंज, डीएम, डीईओ एवं जिला निगरानी ब्यूरो को आवेदन देकर जांच की मांग की है और नियोजन रद्द करते हुए यथोचित कारवाई करने की मांग भी की है ।

इस बाबत प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी नीलम कुमारी ने बताया कि मामले से संबंधित आवेदन प्राप्त हुआ है। मामले से संबंधित शिक्षक से साक्ष्य की मांग की गई है। साक्ष्य मिलने पर जांचोपरान्त उचित कार्रवाई की जाएगी।

वही मामले को लेकर शिक्षक शमीम अख्तर ने  बताया कि लगाया गया आरोप बेबुनियाद है. बीते दिनो हुए विवाद को लेकर दुर्भावना से ग्रसित होकर नाहक परेशान करने के लिए यह आरोप लगाया गया है, हमने प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय को संबंधित कागजात सौंप दिया है ।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...