14 सितंबर 2017

प्रशासन के रवैये से आक्रोशित जनप्रतिनिधियों व लाभुकों नें किया धरना-प्रदर्शन

कल्याणकारी योजनाओं को लेकर मधेपुरा जिले के पुरैनी प्रखंड के पंचायत के साथ सौतेला व्यवहार करने को लेकर आज धरना-प्रदर्शन किया गया.

प्रधानमंत्री आवास योजना, सामाजिक सुरक्षा, पेंशन सहित कई जनकल्याण के योजनाओं में प्रखंड प्रशासन द्वारा मनमाने व्यवहार एवं व्याप्त भ्रष्टाचार के विरोध में प्रखंड के गणेशपुर पंचायत के जनप्रतिनिधियों एवं आम जनों द्वारा गुरुवार को प्रखंड कार्यालय के समक्ष पंचायत के मुखिया मो० वाजिद की अगुवाई में धरना-प्रदर्शन किया गया. धरना-प्रदर्शन में गणेशपुर पंचायत के सरपंच, मुखिया सहित कई वार्ड सदस्य एवं अन्य पंचायत के प्रतिनिधियों ने भी हिस्सा लिया. 

वहीं पूर्व से आयोजित अनिश्चितकालीन धरना को प्रखंड विकास पदाधिकारी रीना कुमारी के आश्वासन देने पर पहले ही दिन समाप्त कर दिया गया. धरना में शामिल लोगों ने कई कर्मियों पर प्रधानमंत्री आवास योजना, वृद्धा पेंशन, कोशी पुनर्वास योजना में घूस लिये बिना कोई भी लाभ नहीं दिये जाने का आरोप लगाया. वहीं धरना को संबोधित कर रहे पूर्व प्रमुख जयप्रकाश सिंह ने कहा कि लोकतंत्र में जनता मालिक होती है. सरकार का प्रयास होता है कि सभी कल्याणकारी याजनाओं क लाभ सत-प्रतिशत लाभुकों को मिले लेकिन प्रखंड में प्रधानमंत्री आवास योजना, घर-घर शौचालय योजना में अवैध तरीके से लाभुकों से संबंधित कर्मियों के द्वारा घूस लिया जा रहा है. उन्होंने कहा कि बीडीओ रीना कुमारी इस मामले में गंभीर नहीं हैं. उन्हें सभी योजनाओं को क्रियान्वयन अच्छी तरह से करना चाहिए. उन्होंने कहा कि प्रखंड मुख्यालय के सभी बैंक के सीएसपी बिना घूस लिये लोगों को सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं देता है. पेंशनधारी को राशि देने में 10से20 हजार रुपये कमीशन लेता है जो अवैघ है, इस पर लगाम लगना चाहिए. वहीं धरना की अगुआई कर रहे मुखिया मो० वाजिद ने कहा कि गणेशपुर पंचायत में 300 शौचालय बनकर तैयार है. किसी को पिछले एक साल से राशि नहीं मिला है. उन्होंने कहा कि अधिकारी चाहे जितना दिन लगा दे एक भी रुपये नहीं देंगे. राशि जल्द ही नहीं मिला तो चरणबद्ध तरीके से आंदोलन करेंगे. मकदमपुर मुखिया प्रतिनिधि ने कहा कि पुरैनी के सभी सरकारी कार्यालयों में बिना घूस दिये कोई भी सरकारी काम नहीं होता है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास और पेंशन तथा घर-घर शौचालय योजना में कोई भी घूस का मांग करता है तो उसे घसीटते हुए थाना तक लाएंगे. और उस पर मामला दर्ज करवायेंगे. वहीं गणेशपुर मुखिया प्रतिनिधि रमण झा ने कहा कि जिस पंचायत से अधिकारियों को नजराना मिलता है उसका काम ससमय निपटाया जाता है. और गणेशपुर पंचायत से किसी भी कर्मी को एक रुपये नहीं मिलने के कारण सभी कल्याणकारी योजना में कोई न कोई पेंच विभागीय स्तर से लगा दिया जाता है. जिसका नुकसान जनता को होती है.

धरना को संबोधित करते हुए कुरसंडी के रामचन्द्र पंडित ने कहा कि बीडीओ रीना कुमारी के लोगों के साथ अच्छा व्यवहार नहीं करने के कारण उनके तबादले की हम लोग मांग किरते हैं. प्रदर्शनकारियों के बुलावे पर बीडीओ रीना कुमारी ने धरना स्थल पर आकर मुखिया मो० वाजिद से मांगपत्र को स्वीकार किया. बीडीओ ने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि सीएसपी हो या कोई भी कर्मी अगर घूस मांगता है तो उसकी सूचना मुझे दें ताकि संबंधित के खिलाफ तुरंत मामला दर्ज किया जाएगा. उन्होंने स्वच्छ भारत निर्माण को सफल बनाने के लिए धरनास्थल पर मौजूद सभी लोगों से आग्रह किया कि खुले में शौच न करने का आदत डालकर एक अच्छे समाज के निर्माण में अपना योगदान दें. 

मौके पर सरपंच पप्पू शर्मा, सपरदह पंसस प्रतिनिधि पप्पू कुमार यादव, हिमांशु कुमार यादव, अनिल कुमार सिंह, पवन गोस्वामी, साधुशरण मंडल, मो० धौली नदाफ, मिथिलेश यादव, संजय साह, रवीन्द्र कुमार, मीरा देवी, पैक्स अध्यक्ष पिन्टू यादव, विनोद चैधरी, मदीना खातून, हरि सहनी व अन्य लोग मौजूद थे.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...