03 सितंबर 2017

भादो के अंतिम रविवार को एक लाख श्रद्धालुओं ने किया सिहेंश्वरनाथ का जलाभिषेक

पवित्र भादो माह की अंतिम रविवार को लगभग एक लाख श्रद्धालुओं ने बाबा सिहेंश्वर नाथ का जलाभिषेक किया.
 
ऐसी मान्यता है कि भादो के रविवार को शिव शंकर की पूजा-अर्चना और जलाभिषेक करने वालों को मुँह मांगी मुराद पूरी होती है.

वैसे भादो के रविवार को मक्कर भी कहते हैं. इस दिन हमेशा श्रद्धालुओं की अद्भुत भीड़ होती है. आज भीड़ के कारण पूरे दिन जाम की समस्या बनी रही. और पूरे दिन सिहेंश्वर बाजार में हलचल देखने को मिली. परसों थाना में शांति समिति की बैठक में भी रविवार को होने वाले भीड़ की व्यापक चर्चा की गई. लेकिन जिन रहनुमाओं पर श्रद्धालुओं के आने वाली भीड़ की जिम्मेवारी थी वे कहीं नजर नहीं आ रहे थे. जिसके कारण अव्यवस्था तो फैलनी ही थी. वहीं रात के बारिश के कारण सुबह 8 बजे तक तो भीड़ कहीं नजर नहीं आ रही थी लेकिन उसके बाद अचानक ही भारी भीड़ उमड़ पड़ी. 

इस बार पूरे सावन-भादो में बारिश होने पर देखा गया कि नदी नाला का पानी भी मंदिर परिसर में घुस जाता है. जो श्रद्धालुओं के श्रद्धा से खिलवाड़ है. लेकिन मंदिर प्रशासन को उसकी कोई परवाह नहीं है. हालांकि पानी आने पर मंदिर प्रशासन पंप सेट से पानी निकालने में जुट जाती हैं लेकिन मंदिर प्रशासन इसका कोई ठोस समाधान निकालने की दिशा में कोई पहल करना जरूरी नहीं समझ रहा है. 8 बजे सुबह के बाद अचानक आई भीड़ ने हर बार की तरह इस बार भी प्रशासन के हर दावे की पौल खोल कर रख दिया. 

प्रशासन के नदारद रहने के कारण भीड़ वाले इलाके में सड़क पार करने के दौरान ट्रक की चपेट में आने से एक 60 वर्षीय वृद्ध महिला की मौत हो गई. उसके बाद तो जाम की स्थिति और भी भयावह हो गई. श्रद्धालुओं के लिए पैदल चलना भी मुश्किल हो गया. प्रशासन द्वारा तैनात मजिस्ट्रेट भी कहीं नजर नहीं आ रहा था. वहीं घटना के बाद बीच सड़क पर ट्रक खड़े रहने के कारण पूरे दिन सिहेंश्वर बाजार में गाड़ियों की लंबी कतारें लगी रही. रुक-रुक कर हो रही बारिश भी अपना रंग दिखाने से पीछे नहीं रही.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...