15 सितंबर 2017

कोसी के कमिश्नर की अध्यक्षता में प्रमंडलीय समन्वय समिति बैठक संपन्न

सुपौल। जिला अतिथि गृह में कोसी प्रमंडलीय समन्वय समिति की एक बैठक शुक्रवार को कोसी कमिश्नर टीएन बिंधेश्वरी की अध्यक्षता में की गई। बैठक में सुपौल, सहरसा एवं मधेपुरा के आला अधिकारी मौजूद रहे।


आगामी पर्व त्योहारों को लेकर उन्होंने पदाधिकारियों को संवेदनशील रहने का आदेश दिया। कहा कि जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक समन्वय स्थापित कर कार्यों का निष्पदान करें। विधि व्यवस्था को लेकर आयुक्त ने कहा कि सांप्रदायिक सदभाव एवं आपसी भाईचारा कायम रहे।

मूर्ति विसर्जन एवं ताजिया जूलूस निकालने के संबंध में उन्होंने कहा कि विशेष सर्तकता बरती जाय।वहीं पूजा स्थल एवं कार्यक्रम स्थल के लिए अनुज्ञप्ति में आवश्यक शर्त रखने के साथ ही अनुज्ञप्ति पर आयोजकों में शामिल 10 से 15 युवाओं का नाम के साथ तस्वीर भी चिपका रहे। जूलूूस मार्ग निश्चित रूप से विवाद रहित हो एवं पर्याप्त संख्या में पुलिस बल की तैनाती रहे।

बैठक में आपदा प्रबंधन की भी समीक्षा की गई। डीएम सुपौल बैद्यनाथ यादव के द्वारा बताया गया कि बाढ प्रभावित इलाके में फूड पैकेट वितरण का कार्य पूर्ण हो चुका है। वहीं 35 हजार 6 सौ पीड़ित परिवार को आरटीजीएस के माध्यम से अनुदान राशि लाभुक के खाते में भेज दी गई है। बाढ के कारण क्षतिग्रस्त हुए सड़क मार्ग की मरम्मत की गई है। बचे सड़कों के मरम्मति का कार्य प्रगति पर है।

सहरसा डीएम विनोद सिंह गुंजियाल ने बताया कि जिले में 43 हजार परिवारों के बीच जीआर का वितरण किया गया है। तटबंध के भीतर क्षतिग्रस्त सड़कों की उंचाई एवं मरम्मत का प्रस्ताव विभाग को भेजा गया है।

जिलाधिकारी मधेपुरा मो0 सौहेल ने बताया कि 41 हजार 275 परिवार के बीच जीआर का वितरण किया गया है। केवल आलमनगर एवं चैसा प्रखंड में इसका वितरण शेष है।

 बैठक में पुलिस उपमहानिरीक्षक कोसी प्रक्षेत्र सहरसा, तीनो जिले के डीएम सहित कोसी प्रमंडल के वरीय अधिकारी उपस्थित थे।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...