25 सितंबर 2017

आंतरिक और बाह्य दोनों ही स्वच्छता आवश्यक: कुलपति

भारतीय सभ्यता-संस्कृति में स्वच्छता का अत्यधिक महत्व है। हमने स्वच्छता को देवत्व के बराबर माना है। यह बात कुलपति प्रोफेसर डॉ. अवध किशोर राय ने कही। 


वे सोमवार को बी. एन. मंडल विश्वविद्यालय, मधेपुरा में आयोजित स्वच्छता अभियान के उद्घाटनकर्ता के रूप में बोल रहे थे। यह आयोजन स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत भारत स्काउट एवं गाइड, मधेपुरा के तत्वावधान में आयोजित किया गया था।

कुलपति ने कहा कि हमें अपने घर-परिवार, आस-पड़ोस एवं समाज-राष्ट्र को स्वच्छ बनाने पर ध्यान देना चाहिए। स्वच्छता न केवल बाह्य वरन् आन्तरिक भी होनी चाहिए।  हम अपने शरीर, आत्मा एवं आसपास तीनों की स्वच्छता का ख्याल रखें। उन्होने कहा कि स्वच्छता न केवल हमारे व्यक्तिगत स्वास्थ्य के लिए बल्कि समाज एवं राष्ट्र के विकास के लिए भी आवश्यक है।  

 इस अवसर पर उपस्थित  डॉ. भूपेन्द्र मधेपुरी ने कहा कि स्वच्छता अभियान की सफलता में शिक्षकों एवं विद्यार्थियों की सक्रिय भागीदारी अपेक्षित है। हम सब मिलकर प्रयास करना होगा । 

इस अवसर पर माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रमंडलीय सचिव परमेश्वरी प्रसाद यादव, डीएसडब्लयू डॉ. अनिलकान्त मिश्र, कुलानुशासक डॉ. अरविंद कुमार, पीआरओ डॉ. सुधांशु शेखर, कुलपति के निजी सहायक शंभु नारायण यादव, भारत स्काउट एवं गाइड के जिला प्रशिक्षण आयुक्त जयकृष्ण यादव, स्काउट मास्टर रहमत अली, मो. रहतुल्ला, अमित कुमार, कुणाल कुमार आदि उपस्थित थे।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...