27 सितंबर 2017

दो अक्टूबर से छिड़ेगा दहेज और बाल विवाह के विरुद्ध अभियान

शराब बंदी के बाद अब राज्य सरकार दहेज प्रथा और बाल विवाह के विरुद्ध आगामी दो अक्टूबर से बड़ा अभियान शुरू करने जा रही है ।

इसके लिये अन्य जिलों के समान मधेपुरा में भी बुधवार कॊ जिलाधिकारी मो० सोहैल की अध्यक्षता में बैठक कर जिला मुख्यालय और प्रखंडों में दहेज प्रथा और बाल विवाह के रोकथाम हेतु आगामी 2 अक्टूबर को होने  वाली शपथ ग्रहण समारोह को वृहद् रूप से आयोजित करने का निर्णय लिया गया ।

जिलाधिकारी ने जिले के सभी विभागों के अधिकारियों को अपने अपने क्षेत्रों में बड़े पैमाने पर शपथ ग्रहण समारोह करवाने का निर्देश दिया। निदेशित किया गया कि पूरे जिले के 2242 वार्ड मेंबर के द्वारा प्रति मेंबर कम से कम 100 लोगों को शपथ ग्रहण हेतु उपस्थित कराना है।

जिलान्तर्गत 170 पंचायत में 2 अक्टूबर को 7 से 9 बजे पूर्वाह्न शपथ ग्रहण समारोह और 10 बजे से ग्राम सभा आयोजित करने का निर्देश जिलाधिकारी महोदय ने दिया। 1573 स्कूल के 8551 शिक्षक को कुल नामांकित 479000 बच्चों के साथ विद्यालय में शपथ ग्रहण में उपस्थित होने का निर्देश जिलाधि कारी ने दिया ।

टोला सेवक, विकास मित्र, सभी आईसीडीएस, पैक्स, जीविका, मनरेगा, चिकित्सा विभाग के सभी अधिकारी, एएनएम, जीएनएम, ममता, आशा आदि सभी को  अपने अपने क्षेत्रों में वृहद रूप से शपथ ग्रहण में उपस्थित कराकर   शपथ दिलाने का निर्देश दिया गया ।

जिलाधिकारी ने जिला शिक्षा अधिकारी को आदेश दिया कि जिले के सभी प्राइवेट स्कूल को 2 अक्टूबर को खोल शपथ ग्रहण समारोह आयोजित करने का पत्र तुरन्त जारी करें। सभी विद्यालय अवश्य उक्त तिथि को यह कार्यक्रम आयोजित करवाना सुनिश्चित करेंगे।

जिलाधिकारी  ने सभी अधिकारी को निर्देश दिया कि जहां भी शपथ ग्रहण होगा शपथ लेने वाले प्रतिभागी का हस्ताक्षर भी करवा लेंगे। बैठक में बिहार सरकार द्वारा जारी किए गए बदलो बिहार के बारे में भी जानकारी दी गई ।

दहेज प्रथा और बाल विवाह के रोकथाम के प्रचार प्रसार हेतु जिलाधिकारी ने जिला सूचना एवं जनसम्पर्क अधिकारी महेश पासवान को निर्देश दिया कि व्यापक स्तर पर इसका प्रचार प्रसार हेतु  फ़्लेक्स पोस्टर  प्रमुख स्थलों के अलावा आयोजित मेले में भी लगवाई जाय ।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...