21 अगस्त 2017

आक्रोश: मुरलीगंज में बाढ़ पीड़ितों ने किया बलुआहा पुल को 4 घंटे तक जाम

कई दिनों से बाढ़ की विभीषिका झेल रहे मुरलीगंज प्रखंड के दीनापट्टी सखुआ पंचायत पीड़ितों के सब्र का बांध टूट गया.
 
आपदा में प्रशासनिक राहत से वंचित पीड़ितों ने मुरलीगंज प्रखंड के प्रखंड विकास पदाधिकारी के खिलाफ नारेबाजी की और एनएच 107 पर बने बलुआहा पुल को जाम कर दिया.


हालांकि प्रखंड विकास पदाधिकारी ललन कुमार चौधरी द्वारा मदद के ठोस आश्वासन मिलने के बाद ग्रामीणों ने जाम समाप्त कर दिया. 

मुरलीगंज प्रखंड के दीनापट्टी सखुआ पंचायत के मुखिया जीवन कुमार यादव ने बताया कि कुल मिलाकर हमारा सारा पंचायत बाढ़ से बुरी तरह प्रभावित है फिर भी कोई प्रशासनिक मदद नहीं मिल पा रही है. पशुपालकों को पशु चारा उपलब्ध नहीं हो रहा है. कई घर टूट कर गिर गए हैं. घर में रखे आनाज जो खाने के लिए थे पानी में सड़ गए हैं, लेकिन प्रशासन के अनदेखी के कारण बाढ़ पीड़ितों की ना तो कोई सुध ली गई और न ही ग्रामीणों की मदद के लिए कोई वैकल्पिक व्यवस्था की गई है. मदद का इंतजार कर रहे ये लोग खुले आसमान के नीचे भूखे प्यासे जीवन बसर करने पर मजबूर हैं. हर घर में पानी प्रवेश कर गया है. सूखा अनाज, प्लास्टिक जैसी मूलभूत जरूरतों से वंचित ग्रामीणों का धैर्य अब टूट गया और आक्रोशितों ने प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं मुरलीगंज थाना अध्यक्ष से कहा कि हम बाढ़ पीड़ितों को समुचित प्रशासनिक सुविधा उपलब्ध नहीं करवाई गई है. 

ग्रामीणों ने प्रखंड विकास पदाधिकारी से वार्ता की और कहा कि हम लोगों को अभी तक राहत पैकेट भी नहीं दिया गया है. बूढ़े, बच्चे बीमार अन्न के दाने के लिए तरस रहे हैं. अभी तक मेडिकल की सुविधा उपलब्ध नहीं करवाई गई है, पशु चारा के अभाव में अब पशुओं की मौत होने लगेगी. पीड़ितों को जरूरी मदद उपलब्ध करवाने में प्रशासन असफल हो रही है. हालांकि सफाई देते हुए प्रखंड विकास पदाधिकारी मुरलीगंज ललन कुमार चौधरी ने कहा कि अनदेखी जैसी कोई बात नहीं है और इन्हें जल्द ही उचित मदद मुहैया करवाई जाएगी. बाढ़ प्रभावित क्षेत्र घोषित करने में हो रहा भेदभाव. ग्रामीणों का आरोप है कि प्रशासन द्वारा 7 दिन बीतने के बाद भी कोई सुधि नहीं लेना उनकी असंवेदनशीलता को दिखलाता है. क्षुब्ध ग्रामीणों ने राज्य सरकार से बाढ़ पीड़ितों के लिए तत्काल व्यवस्था कर जिले को बाढ़ प्रभावित घोषित करने की भी मांग की. 

मौके पर जीवन यादव उप मुखिया दीनापट्टी सखुआ राजकुमार रजक जिला परिषद, समीति विनय मेहता, वार्ड सदस्य रेणु देवी, गीता देवी, बिजली देवी, संजय यादव, धीरेंद्र ऋषि देव बलरामपुर जगेश्वर हंसदा, वीरेंद्र रजक, शांति देवी, प्रमिला देवी, सुनील कुमार ठाकुर, हरे राम साह,अरुण कुमार यादव, कुंदन यादव, ऋतुराज विकास विशाल एवं हजारों की संख्या में ग्रामीणों के साथ बलुआहा पुल पर मौजूद थे.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...