07 अगस्त 2017

बहनों ने बाँधा भाइयों की कलाई पर स्नेह और आशीर्वाद का बंधन

आदि काल से बहन के द्वारा भाई की कलाई पर रक्षा सूत्र बाँध कर भाई से रक्षा का वचन लिया जाता है । इस पारम्परिक पर्व के अवसर पर यहाँ समयानुसार अनेक आयोजन भी किये गये ।

जहाँ भाई बहन एक साथ उपस्थित थे वहाँ तो सबने हर्षोल्लास के साथ मिलकर इस पर्व कॊ मनाया । लेकिन जहाँ भाई या बहन नही थे वहाँ मुंहबोली बहनों ने भी अपने समाज के भाई कॊ रक्षा सूत्र बाँध  कर इस पावन पर्व कॊ मनाया ।

रक्षा के संकल्प का यह पर्व राष्ट्रीय स्वँय सेवक संघ द्वारा महादलित मुहल्ले में जाकर मनाया गया । पहले तो अपने ध्वज पर और फ़िर विश्वविद्यालय के सामने स्थित महादलित मुहल्ले में जाकर महिलाओं से राखी बँधवाया और बच्चों और बडो कॊ राखी बाँधा । इस अवसर पर विस्तारक आलोक जी एवम सह सम्पर्क प्रमुख सुनील सुमन ने बताया कि हमलोग यह पर्व हिंदू समाज कॊ एकजुट और समरसता लाने के लिये आयोजित करते हैं । स्वयंसेवक शानू जी, शिवम जीजीवानँद जी, लालन जी, नवीन, सौरभ, नीतीश रजनीश, प्रभात आदि ने भी वहाँ राखी बाँधे और बँधवाये ।

रक्षा बंधन के अवसर पर कई लोगों ने पौधारोपण भी किये और पौधों की रक्षा का संकल्प लेते हुए उनपर रक्षा सूत्र भी बाँधा ।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...