27 अगस्त 2017

मधेपुरा: वार्ड नं. 19 में समस्याओं का मकड़जाल, वार्ड पार्षद ने ही लगाई गुहार

मधेपुरा शहर के वार्ड नम्बर उन्नीस के वासी इन दिनो कई समस्याओं से पीडित हैं । जल जमाव, नाले की समस्या, रोशनी और पेय जल की योजनाओं की बंदी आदि ने जीना मुहाल कर रखा है ।


वार्ड पार्षद कंचन कुमारी ने सम्बन्धित पदाधिकारियों कॊ आवेदन देकर  कहा है कि अगर शीघ्र इन समस्याओं से निजात नही दिलाई गयी तो वार्ड वासी आंदोलन करेंगे ।

इस वार्ड की बड़ी समस्या यह है कि डू डा से निर्मित नाला कर्पूरी चौक पर आकर खुला पड़ा है । शहर भर के नाले का पानी इस अर्धनिर्मित नाले से ओवर फ्लो करके लोगो के घर आँगन में गंदगी का सैलाब जमा कर देता है । निराकरण के लिये नगर परिषद हाथ उठा देती है कि यह मेरा नाला नही है जबकि डूडा अब बंद हो चुका है । इस नाले के निर्माण में भारी धांधली हुई थी और शिकायतों कॊ सुने बिना मिलीभगत कर नाले का सत्यानाश कर दिया गया ।

इस वार्ड के दक्षिण पूर्वी कोने में स्थित जयपाल पट्टी रेलवे ढाले तक पूर्व  में निर्मित नाले कॊ आगे कच्चे नाले से जोड़कर रेलवे में बहाया जा सकता है, लेकिन इस और भी ध्यान नही दिया जाता है । लिहाजा वहाँ बजरंग बली तिराहे के पास रहने वाले जल जमाव से परेशान रहते हैं ।

वार्ड पार्षद बताती है कि स्ट्रीट लाइट भी दर्जनों स्थानों पर बंद पड़ी है लेकिन नगर परिषद में कोई सुनने वाला नही है । सात निश्चय के तहत घर घर जलापूर्ति योजना का कार्यान्वयन शुरू हुआ लेकिन ज्योंहि प्राक्कलन के अनुसार पाइप बिछाने कॊ कहा गया तो गड्ढे कॊ बंद कर सम्वेदक भाग गया । अभी नाले की  सफाई ( डूडा वाले नाले की और सांसद शरद यादव वाले रोड नाले की ) बेहद ज़रूरी है । लेकिन कोई यहाँ सुनने वाला ही नही है । विवश होकर मैंने कार्यपालक पदाधिकारी के अतिरिक्त एस डी ओ, जिलाधिकारी, आयुक्त और मुख्यमंत्री तक आवेदन देकर गुहार लगाई है कि वार्ड नम्बर उन्नीस वासियों की समस्याओं पर ध्यान दिया जाय । वार्ड वासी भी आंदोलन पर उतारू हैं । 

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...