22 अगस्त 2017

पूर्वी तटबंध के 64.95 किलोमीटर स्थित स्पर पर कोसी ने धारण किया रौद्र रूप

सुपौल। पूर्वी तटबंध के 64.95 किलोमीटर स्थित स्पर पर कोसी ने अपना रौद्र रूप धारण कर लिया है। आक्रमक हुई कोसी ने करीब 30 मीटर तक स्पर को अपने आगोश में समा लिया है।

हालांकि जल संसाधन विभाग कोसी के मुख्य अभियंता के निर्देशन में दर्जन भर अभियंता मौके पर डटे हैं। जहां युद्ध स्तर पर फ्लड फाइटिंग का कार्य कराया जा रहा है। लेकिन आक्रमक हुई कोसी के सामने फ्लड फाइटिंग नाकाफी साबित हो रहा है। स्पर पर दबाव के साथ कटाव जारी है। 

मंगलवार की संध्या सुपौल के डीएम बैद्यनाथ यादव ने भी स्पर का जायजा लिया। कटाव निरोधी कार्य स्थल पर पुराने जीयो बैग देखकर डीएम बिफर गये और मौके पर ही उन्होंने कार्यपालक अभियंता को फटकार लगानी शुरू कर दी। डीएम का कहना था कि किसी भी परिस्थिति में कार्य में लापरवाही नहीं चलेगी। लापरवाही बरते जाने पर दोषी अधिकारियों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जायेगी। 

स्पर से सटे एक बड़ी आबादी हैं डरे सहमे: स्पर से सटे पूर्वी तटबंध के नीचे एक बड़ी आबादी बसी है। जिन्हें स्पर के टूटने पर डर सता रहा है। लोगों की रातें की नींद गायब हो रही है। स्पर के टूटने पर कोसी नदी पूर्वी तटबंध के करीब से प्रभावित होने लगेगी। ऐसे में पूर्वी तटबंध पर कोसी का दबाव बनना तय माना जा रहा है।

 हालांकि अभियंताओं की टीम बताते हैं कि रात भर में स्पर को बचा लिया जायेगा। लेकिन आक्रमक हुई कोसी के रूख को देख कर आशंका जाहिर की जा रही है की कभी भी स्पर कोसी में समा सकता है। फिलहाल सैकड़ों मजदूरों के साथ संवेदक और अभियंताओं की टीम मौके पर डटे हुए हैं। 

(स्थल का वीडियो और क्या कहा डीएम ने, यहाँ क्लिक करें)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...