11 अगस्त 2017

सरकटी लाश: क्या परिजनों द्वारा मारपीट करने के बाद छात्र ने की खुदकुशी ?

मधेपुरा जिला मुख्यालय में शुक्रवार की सुबह जयपालपट्टी स्थित स्लीपर कारखाना के पास रेल ट्रैक पर एक युवक की सर कटी लाश मिलने पर लोग सन्न रह गए. लाश की पहचान मुरलीगंज थाने के परमानन्दपुर निवासी खरकन यादव के पुत्र मनोज कुमार के रुप में हुई. 


पर गाँव में चर्चा के अनुसार मुरलीगंज प्रखंड अंतर्गत परमानंदपुर गांव के मनोज कुमार ने आज अहले सुबह रेल पटरी पर कटकर अपनी जीवन लीला को समाप्त कर ली. मनोज कुमार पिता खरकन यादव माता रीता देवी घर परमानंदपुर वार्ड नंबर 9 अपने  माता-पिता की दूसरी संतान थी. खरकन यादव के बड़े पुत्र सनोज यादव से जब मधेपुरा सदर अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाते वक्त जानकारी मांगी गई तो उन्होंने कुछ ख़ास बताने से इनकार किया. उन्होंने बताया कि कुछ महीने पहले ही वह पंजाब से आया है वह पंजाब में मजदूरी का काम करता है. घटना के कारणों के संबंध में उसने अनभिज्ञता जाहिर की.

मनोज कुमार के रेल पटरी पर आत्महत्या करने की खबर पूरे गांव में आज की तरह फैल गई लोग दबी जुबान से तरह तरह की बातें करने लगे. कुछ लोगों ने अपना नाम बताने से इंकार किया और कहा कि 10 तारीख की रात में गुरुवार को मनोज कुमार के माता-पिता, चाचा और भाई ने उनके साथ मारपीट की थी. जब मारपीट की वजह जाननी चाही तो कई ग्रामीण बताने से मुकर गए. पर एक बुजुर्ग ने अपना नाम नहीं छपने की शर्त पर कहा कि मनोज कुमार के गाँव में ही एक अवैध संबंध के कारण परिजनों ने उनके साथ मारपीट की.  बताया कि इसके कुछ देर के बाद मनोज अपने काले रंग की स्पलेंडर मोटरसाइकिल से मधेपुरा की ओर निकला और क्रोध और आवेश या आत्मग्लानि में आकर उसने अपनी जीवन लीला समाप्त कर दी.

वैसे पुलिस इस मामले की गहराई से जांच कर रही है. मामला आत्महत्या है या कुछ और जांच के बाद क्या परिणाम सामने आते हैं, देखना बाकी होगा.
 

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...