08 अगस्त 2017

मुरलीगंज के एक घर में भीषण चोरी: छः लाख रूपये की संपत्ति पर चोरों ने किया हाथ साफ

मधेपुरा जिले के मुरलीगंज नगर पंचायत क्षेत्र में सोमवार की रात नगर पंचायत के वार्ड नंबर-7 स्थित अजीत कुमार चौधरी, पिता श्री राजेंद्र प्रसाद चौधरी के घर में सोमवार की रात चोरों ने चोरी की एक बड़ी घटना को अंजाम दिया ।


आज 8 अगस्त (मंगलवार) को घटना की जानकारी देते हुए अजीत कुमार ने बताया कि हम सभी लोग रक्षाबंधन के अवसर पर कटिहार गए हुए थे । घर बिलकुल खाली पड़ा हुआ था । घर के अगले हिस्से में जूते-चप्पल की हमारी दुकान है भी है । हमने सभी जगह दरवाजे बंद करने के उपरांत सामने का दरवाजा भी बंद कर दिया था, और हमलोग कटिहार चले गए । आज सुबह में मेरे छोटे भाई संतोष कुमार जब घर के सामने का दरवाजा खोला तो घर में चोरी की घटना की सूचना हमें दी । हमलोग जब घर पहुंचे तो पाया कि घर के दो कमरों में रखे हुए गोदरेज के लॉकर टूटे हुए थे । गोदरेज के सारे कपड़े इधर-उधर कमरे में फेंके हुए थे । लॉकर तोड़कर सोने के चेन, अंगूठी और लगभग 200 ग्राम के सभी जेवरात थे । जिसका अभी अनुमानित मूल्य लगभग छह लाख रूपये तथा चांदी के सिक्के एवं चांदी के कुछ जेवरात जिसका कुल वजन 500 ग्राम है, अनुमानित मूल्य बीस हजार तथा 6 तारीख रविवार को बैंक बंद होने की वजह से और 7 तारीख को रक्षाबंधन होने की वजह दुकान की बिक्री के पैसे लगभग दो लाख अस्सी हजार घर के ही गोदरेज लॉकर में रख कर कटिहार चले गए थे ।

घटनास्थल देखने से लगता है कि चोर अजीत कुमार के घर के पश्चिम खाली जमीन की ओर से सीढ़ी लगाकर छत के सहारे घर में प्रवेश किए तथा वापस निकलने के लिए उसने कई साड़ियों को जोड़कर रस्सी के रूप में व्यवहार किया है । अजीत कुमार और उनके परिजन इस चोरी की घटना से हतप्रभ हैं । उन्होंने बताया कि घटना की सूचना हमने मुरलीगंज थाना प्रभारी को दी है ।

थाना अध्यक्ष राजेश कुमार ने पहुंचकर चोरी की घटना को देखा तथा आवेदन देने की बात कही है । मुरलीगंज थाना अध्यक्ष राजेश कुमार ने बताया कि पुलिस द्वारा इस आशय की सूचना बार-बार दी जाती है कि जब भी आप घर खाली छोड़ कर जाएं तो इसकी सूचना जिस थाना क्षेत्र के अधीन रहते हैं उसे अवश्य दे दी जानी चाहिए, पर लोग इसे आवश्यक नहीं समझते जिसके कारण बड़ी घटनाएं घट जाती है । मामले की छानबीन अभी जारी है ।
 

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...