08 अगस्त 2017

मधेपुरा में शराब माफियाओं पर अब कड़ा नकेल, सभी थानाध्यक्षों कॊ मिला होमवर्क

मंगलवार कॊ शराब बंदी और कानून व्यवस्था कॊ ले जिलाधिकारी मु सोहैल की अध्यक्षता में पुलिस एवं प्रशासनिक पदाधिकारियों की बैठक में शराब माफियाओं पर नकेल कसने के लिये समीक्षात्मक बैठक हुई ।


बैठक में सभी थाने में अब तक दर्ज शराब से सम्बन्धित मामलों की समीक्षा करते हुए निदेशित किया गया कि जमानत के विरुध्द फौरन अपील के लिये कारवाई शुरू करें । डी एम ने यह भी स्पष्ट किया कि अब शराब बंदी के मामले में अभियुक्तों कॊ ही अपने ऊपर लगे आरोप का जवाब देना है । इसीलिये दारू निर्माण का सामान, बोतल आदि सभी कॊ मौके पर बरामद करें । शराबियों कॊ पकड़ने के लिये अब सभी थाने गश्ती के दौरान ब्रेथ एनेलाईजर से जाँच करेंगे । सावन की समाप्ति के बाद माँस और शराब का दौर बढ़ेगा लिहाजा शराब बंदी अभियान कॊ और भी कड़ाई से जारी रखने का निदेश सभी पदाधिकारियों कॊ दिया गया ।     
                  
जिलाधिकारी ने जिले के कई ऐसे स्थानों का नाम लिया जहाँ अभी भी शराब बेची जा रही है । इन स्थानों पर कड़ी निगरानी का निदेश दिया गया । पूर्णिया से भाया रघुवंश नगर बिहारीगँज आनेवाली बसों की जाँच कर शराबियों कॊ पकड़ने का भी निदेश दिया गया ।

बैठक में सँथाल टोलो में अभी भी महुआ शराब निर्माण पर दुख व्यक्त करते हुए निदेश दिया गया कि इन टोलों के शराब निर्माण करने वालों के साथ कड़ाई से पेश आवें । उन्होने यह भी कहा कि सँथालो कॊ प्रशिक्षण देकर नौकरी दिलाई गयी, इनके बीच रोजगार के लिये गाय दिये गये और अन्य अनेक कार्य किये गये लेकिन कई लोग आज भी इस अवैध धंधे में लगे हुए है, अब इनके साथ कोई मुरव्वत नही कर कड़ी कारवाई करने का निदेश डी एम ने दिया ।

 बैठक में एस पी विकास कुमार, ए डी एम, ए एस पी, दोनो एस डी ओ, उत्पाद अधीक्षक, लोक अभियोजक, उत्पाद सहित सभी थानाध्यक्ष उपस्थित थे ।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...