30 जुलाई 2017

तुलसी ने मानवीय मूल्यों कॊ दिया महत्व: मनाई गई तुलसी जयंती

रविवार कॊ टी पी कालेज गैलेरी हॉल में तुलसी जयंती का आयोजन हिन्दी विभागाध्यक्ष डॉ वीर किशोर सिंह की अध्यक्षता में कर जयंती मनाई गई । 

उद्घाटन करते हुए प्रधानाचार्य डॉ एच एल जौहरी ने कहा कि तुलसी ने परिवार, समाज और व्यक्ति के निर्माण के लिये जिन मूल्यों की स्थापना की, वे आज भी उपादेय हैं । डॉ अरविन्द लाल दास ने कहा कि  तुलसी भक्त और समन्वय वादी कवि थे ।

डॉ सिद्धेश्वर काश्यप ने कहा कि  तुलसी समय का साक्षात्कार करते हैं और अनुभव के आधार पर एक ऐसे समाज की परिकल्पना रामराज्य के माध्यम से करते हैं जिसके प्राण तत्व समता, न्याय, प्रेम और बंधुत्व हैं ।

डॉ विनय कुमार चौधरी ने कहा कि तुलसी कि जीवन यात्रा काम से राम कि और जाती है । वे मानवीय मूल्यों कॊ सर्वाधिक महत्व देते हैं । डॉ वीणा कुमारी ने कहा कि तुलसी का अवदान युगों तक श्रद्धा से याद किया जाता रहेगा ।

अध्यक्षता करते हुए विभागाध्यक्ष डॉ वीर किशोर सिंह ने कहा कि तुलसी एक भक्त कवि हैं, लेकिन वे मनुष्य के चरित्र के निर्माता हैं, जिनके प्रतिमान राम हैं । इस अवसर पर डॉ उदय कृष्ण, डॉ मिथिलेश कुमार अरिमर्दण, महेंद्र नारायण पंकज, डॉ उपेंद्र प्रसाद यादव के अतिरिक्त वर्षा जोशी, ज्योति, मंजु, किरण, खुशबू, सुजीत, शत्रुघ्न एवं अंजलि आनंद ने भी विचार व्यक्त किये ।

आयोजन में मु. कमरूदजमा, लालन, नरेन मेहता, रोमां, पूनम, प्रदीप आदि ने सहयोग दिये ।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...