28 जुलाई 2017

उधर नीतीश को बहुमत तो इधर राजद ने सड़क जाम कर जम कर लगाए विरोध में नारे

बिहार में आए राजनीतिक भूचाल में आज उस समय भले ही एक पड़ाव आ गया जब एनडीए के नेतृत्व में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिहार विधानसभा में बहुमत साबित कर दिया हो, पर राजद समर्थक लगातार आन्दोलन के मूड में हैं.

कल मधेपुरा में नीतीश कुमार के खिलाफ विश्वासघात मार्च निकालने के बाद आज राष्ट्रीय जनता दल के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने मधेपुरा में चक्का जाम कर दिया. सुबह से ही कार्यकर्ता एक जुट होनेव लगे और जिला मुख्यालय में कॉलेज चौक, कर्पूरी चौक आदि जगहों पर वाहनों को खड़ी कर सड़क जाम कर दिया. राजद प्रखंड अध्यक्ष तेज नारायण यादव तथा पंकज यादव आदि के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने कई घंटे तक सड़क को जाम रखा और नीतीश कुमार के खिलाफ जम कर नारे लगाए. उनका कहना था कि चुनाव में बिहार की जनता ने जनमत महागठबंधन को दिया था, नीतीश कुमार को भाजपा की गोद में बैठने का जनादेश नहीं था. नीतीश कुमार ने बिहार की जनता को धोखा दिया है और उन्हें जनता ही आनेवाले समय में सबक सिखाएगी. बाद में एसडीओ संजय कुमार निराला, बीडीओ दिवाकर कुमार, सदर थानाध्यक्ष मनीष कुमार तथा कमांडो टीम आदि ने जाम कर रहे लोगों को समझा कर शांत कराया.

उधर अन्य प्रखंड मुख्यालयों से भी सड़क जाम की सूचना है. गम्हरिया प्रखंड क्षेत्र के बस स्टैंड में शुक्रवार को सुबह 10 बजे से चक्का जाम कर तथा टायर जला कर नीतीश कुमार व भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ विरोध जताया. राजद प्रखंड अध्यक्ष प्रो अरुण कुमार यादव, प्रदेश युवा महासचिव डॉ रविशंकर उर्फ पिंटू यादव, प्रखंड राजद कार्यकारी अधयक्ष संतोष यादव  आदि ने नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने कहा कि बिहार की जनता के साथ नीतीश कुमार द्वारा विश्वासघात और मोदी के साथ मिलकर लोकतंत्र की हत्या की साजिश, सीबीआई, ईडी आदि संस्थाओं का दुरुपयोग कर फर्जी मुकदमा में लालू परिवार को फंसाना नीतीश और हज्पा को महंगा पड़ जायेगा. मौका आने पर जनता इसका मुंहतोड़ जवाब देगी.
 (रिपोर्ट: मुरारी सिंह/ डिक्शन राज)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...