02 जुलाई 2017

अच्छी ख़बर: मधेपुरा जिला अव्वल, पूरे सौ प्रतिशत हुई चावल की वसूली

जिस जिले मॆं राइस मिल वाले करोड़ों का सरकारी चावल हर वर्ष गट्का करते थे, इस बार प्रशासनिक कड़ाई के कारण समय पर शत प्रतिशत चावल की वसूली हो गयी।

मधेपुरा जिले में वर्ष 2014-15और 2015-16 मॆं कुल 28 मिलरो  ने 45 करोड़ रु के चावल गटक लिये थे, जिनपर जप्ती कुर्की की कार्रवाई लगातार जारी है ।

ज्ञातव्य है कि अब जिले मॆं पैक्स किसानों से निर्धारित मूल्य पर धान खरीद कर निर्धारित मीलर कॊ चावल कूटने देते हैं और फ़िर उनसे वसूली कर राज्य खाद्य निगम कॊ देते हैं ।लेकिन पूर्व मॆं खाद्य निगम द्वारा मिलर कॊ धान दिया जाता था और वे इसे गटक जाते थे ।

राज्य खाद्य निगम की ताजा रिपोर्ट के अनुसार राज्य मॆं सिर्फ मधेपुरा जिले मॆं ही पूरे सौ प्रतिशत चावल की वसूली हुई है। यहाँ अधिप्रप्ति की 31868.64 धान के बदले 21351.99  चावल मिलरौ को देना था जबकि 21352.22 की वसूली हो गयी है। पड़ोसी जिला सहरसा मे 70.2 प्रतिशत, सुपौल मॆं 88 प्रतिशत, खगड़िया मॆं 83.3 प्रतिशत और पुरनिया मॆं 96.4 प्रतिशत चावल की वसूली की गयी है ।

जिलाधिकारी मो० ने इस बेहतरीन उपलब्धि के लिये जिले के सभी पैक्स अध्यक्षों को धन्यवाद देते हुए कहा है कि यह सबके मेहनत का परिणाम है ।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...