20 जुलाई 2017

सिंहेश्वर मंदिर में फैली कुव्यवस्था के खिलाफ भाजपा करेगी चरणबद्ध आन्दोलन

मधेपुरा जिले के सिहेंश्वर में भारतीय जनता पार्टी ने मंदिर प्रशासन में फैली कुव्यवस्था के खिलाफ बिगुल फूंकने का निर्णय लिया है. निर्णय सिहेंश्वर प्रखंड के मंडल कार्यसमिति की बैठक में लिया गया।


बैठक मंडल अध्यक्ष संजय पाठक की अध्यक्षता में बाबा सिहेंश्वर कंप्यूटर सेंटर पंडा टोला गौरीपुर में हुई । बैठक में चर्चा की गई कि सावन के पवित्र सोमवार को सिहेंश्वर मंदिर में फैले कुव्यवस्था के कारण समय पर पेट्रोल नहीं मिलने के कारण नाबालिग गौतम को नहीं बचाया जा सका । मंडल अध्यक्ष श्री पाठक ने कहा इस मौत का जिम्मेवार कौन हैं ? शिवगंगा पर सीढ़ी बनाते समय लापरवाही की गई और सीढ़ी के नीचे खतरनाक होल छोड़ दिया जो लगातार मौत का कारण बन रहा है । जिला प्रशासन हर बैठक में उस होल की चर्चा कर अपना लंबे -चौड़े निर्देश दे कर इति श्री समझ लेती है और न्यास भी कमियों को दूर करने के लिए कोई कदम नहीं उठाती है । इस बार भी डीएम साहब के द्वारा कहा गया संवेदक द्वारा शिवगंगा जीर्णोद्धार के दौरान सीढ़ी बनाने के दौरान उसके नीचे 10 से 12 फीट का शून्य छोड़ दिया गया है । जिसमें फंस कर अक्सर जान चली जाती है । उसके पास बैरिकेटिंग किया जाय । लेकिन जो बेरिकेटिंग किया गया है वह अभी ही पानी के सतह के बराबर है । मंडल अध्यक्ष संजय पाठक ने इस मामले की जांच कर दोषी पर कार्रवाई करने की मांग की ।

श्रावणी मेला में दूर-दूर से आए श्रद्धालुओं के लिए कुमारखंड के एक दाता ने धूप से बचने के लिए मंदिर से शिवगंगा तक शेड का निर्माण कराया । लेकिन फेलिन के थपेड़ों में वह गिर गया और सिहेंश्वर मंदिर न्यास समिति के मार के कारण दुबारा उठ भी नहीं सका । वह सामग्री कहाँ गई उसकी भी जांच कर दोषी पर कारवाई की जाय । धूप में घंटों लाइन में खड़े रहने की वजह से श्रध्दालुओं को काफी परेशानी होती है । जिसको लेकर शिवगंगा से मंदिर परिसर तक शेड की व्यवस्था अविलंब की जाए । सात निश्चय यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंदिर परिसर में धर्मशाला एवं पूरब साइड में सीढ़ी निर्माण शिवरात्रि मेला से पहले करने की घोषणा की लेकिन उस घोषणा के पंख ही टूट गये । अब तो ऐसा लगता है कि इस बार भी मेला तक में यह कार्य नही हो पायेगा । और माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का मेला के उद्घाटन का ख्वाब, ख्वाब ही न रह जाय । जिलाधिकारी ने सावन मेले को लेकर हुई बैठक में घोषणा की थी कि शर्मा चौक से महावीर चौक तक की सड़क की पीसीसी ढलाई की जाए, जो अब तक नही हो सका है । अंचल कर्मचारी के द्वारा रसीद कटाने में हो रही मनमानी को देखते हुए 5 साल से अधिक समय से पदस्थापित हल्का कर्मचारी का अविलंब स्थांतरण हो ।

कहा कि अगर इस तरह के जनहित के कार्यो की अनदेखी बंद नही हुई तो पार्टी चरणबद्ध आंदोलन करेगी । बैठक में मंडल प्रभारी सह जिला उपाध्यक्ष विरेंद्र कुमार चौधरी, उमेश झा, प्रताप नारायण सिंह, राय जवाहर, विजय भगत, धर्मदेव गुप्ता, हरिओम, सुभाष ठाकुर, मनोज राम, ललित यादव, बरुण पोदार, विजेंद्र यादव आदि उपस्थित थे । 

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...