25 जुलाई 2017

मधेपुरा शहर में दो दुकानदारों में मारपीट, दोनों तरफ से मुकदमा दर्ज

मधेपुरा में जमीन विवाद में हुई मारपीट में घायल मधेपुरा जिला मुख्यालय के निर्मल सुल्तानिया को सदर अस्पताल मधेपुरा में इलाज के लिए लाया गया.

घटना रविवार शाम की है. मधेपुरा नगर परिषद् क्षेत्र के मेन रोड वार्ड नंबर 17 के निर्मल कुमार सुल्तानिया ने थाना में आवेदन देकर आरोप लगाया कि मेरे दुकान के पीछे मेरे पड़ोसी शिव आदर्श मिष्ठान भंडार के अर्जुन साह एवं अशोक साह मेरे बगल में भट्ठी जोड़कर मिठाई बनाते हैं, जिसमें भट्ठी के धुआं से हमलोग परेशान हैं. धुआं बंद करने के लिए बार-बार कहा गया लेकिन हर बार यही कहा जाता था कि अपनी व्यवस्था आप खुद कर लें. इसलिए उसे उसके बाद हम रविवार 23 जुलाई को मिस्त्री बुलाकर दीवार दे रहे थे तो उन्होंने दीवार को तोड़ दिया. फिर जब हम दीवार देने लगे तो अशोक साह के पुत्र आशीष कुमार मेरे दुकान में घुसकर गाली गलौज करने लगे. उस वक्त मेरी छोटी बेटी स्नेहा दूकान पर अकेली थी. आशीष स्नेहा को अभद्र अश्लील गालियां देने लगे. इसी बीच मैं भी दुकान पर पहुंच गया तो वे मेरे साथ भी गाली-गलौज करने लगे. तभी अर्जुन साह भी वहां आ गए और लोहा के रॉड से जान मारने की नीयत से मेरे सर पर प्रहार किया जिससे मैं बचना चाहा तो रॉड मेरी नाक पर जाकर अलग और मैं बुरी तरह जख्मी होकर बेहोश हो गया. इस क्रम में मेरे मुंह और नाक से खून बहने लगा. उन्होंने मारपीट के क्रम में मेरा दो भर का सोने का चेन और दुकान से बिक्री के 15000 रूपये भी निकाल लिए.

मामले में सदर थाने में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है, जबकि आरोपियों की तरफ से भी लूटपाट का मामला दर्ज कराया गया है. सदर थानाध्यक्ष मनीष कुमार ने बताया कि जिस समय पीड़ित निर्मल सुलतानियाँ उनके पास आए थे उस समय उनकी नाक से खून बह रहा था, हमने पहले उन्हें इलाज के लिए भेज दिया. मामला दोनों तरफ से दर्ज है, जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जायेगी.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...