12 जुलाई 2017

‘पंद्रह सौ दिए, पचास हजार दिए क्या?’: सीओ पर रिश्वत का आरोप (स्टिंग वीडियो)

सूबे के अधिकांश कार्यालयों में रिश्वतखोरी का बाजार गर्म है और भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने के सरकार के सभी प्रयास विफल साबित हो रहे हैं.


मधेपुरा जिले के गम्हरिया सीओ पर बासगीत पर्चे के नाम पर रिश्वत लिए जाने का आरोप अंचल क्षेत्र के एक पीड़ित ने लगाया है. पीड़ित कुलदीप मुखिया ने आरोप लगाया कि सीओ गम्हरिया ने बासगीत पर्चे के नाम पर उनसे रिश्वत के तौर पर काम कराने के लिए पंद्रह सौ रूपये ले लिए. मधेपुरा टाइम्स के द्वारा जारी स्टिंग वीडियो में अधिकारी ने रूपये लेने की बात स्वीकार करते कह रहे हैं कि हजार पंद्रह सौ दिया है, पचास हजार दिया क्या?

मतलब कि अधिकारी की नजर में गरीबों से हजार-पंद्रह रूपये लेने का कोई ख़ास महत्त्व नहीं है. इस बाबत मधेपुरा टाइम्स ने जब फोन पर आरोपी अंचलाधिकारी ध्रुव कुमार से इस मामले पर पूछा तो उन्होंने कहा कि आरोपी से संबंधित जमीन विवादस्पद है, उसका काम होने वाला नहीं है. रूपये लेने के प्रश्न पर उन्होंने कहा कि ये गलत बात है.

उधर मामले को संज्ञान में देने पर मधेपुरा डीएम मो सोहैल ने कहा कि वीडियो फुटेज के आधार पर कार्रवाई होगी. एसडीएम और अन्य अधिकारी की टीम का गठन इसकी जांच हेतु किया जा रहा है और जांच में दोषी पाए जाने पर सीओ नपेंगे.  

सुनिए इस वीडिओ में पीड़ित और अधिकारी को. यहाँ क्लिक करें.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...