23 जुलाई 2017

नाजायज राशि माँगना पड़ा महंगा, डीएम ने किया तीन अस्पतालकर्मी को निलंबित

मधेपुरा सदर अस्पताल में आज जिलाधिकारी मो० सोहैल ने औचक निरीक्षण किया और महिला रोगी से रूपये मांगने के आरोपी दो एएनएम साईट कुल तीन महिला कर्मी को निलंबित करने का तत्काल आदेश दे दिया.

मिली जानकारी के अनुसार जिलाधिकारी ने यह औचक निरीक्षण हॉस्पिटल कर्मियों के द्वारा रोगियों से पैसा मांगने आरोप के बावत किया था.  बताया जाता है कि शंकरपुर की  एक महिला रोगी दरकना खातून अपने बच्चे को दिखाने सदर अस्पताल मधेपुरा आई थी, जिसने आरोप लगाया कि वहां एएनएम ने उससे इलाज के बदले नाजायज रूपये की मांग की. इसकी सूचना मधेपुरा जिलाधिकारी को किसी ने मोबाइल द्वारा दी जिसके बाद डीएम खुद सदर अस्पताल पहुंचे और जांच कर एएनएम अरूणा देवी, गीता देवी  तथा संलिप्त आशा राधा देवी को सस्पेंड करने का आदेश दे दिया.

अस्पताल के निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने सदर अस्पताल में व्याप्त गंदगी को देखकर हॉस्पिटल मैनेजर को हॉस्पिटल की साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देने को कहा. उन्होंने प्रत्येक महीने गेट का पर्दा को साफ करने का भी निर्देश दिया और हॉस्पिटल के सुरक्षा गार्ड को बुला कर कहा कि अगर कोई आदमी बिना किसी काम के अस्पताल परिसर में घूमता पाया जाता है उसे पकड़ कर थाना भेज दो. बता दें कि अब सदर अस्पताल में होमगार्ड को हटा कर आर्मी के सेवानिवृत जवान को तैनात किया गया है.

अस्पतालकर्मी को निलंबित करने के आदेश से अस्पताल में हडकंप मचा है.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...