14 जून 2017

‘न्यूमोनिया और डायरिया 5 साल से छोटे बच्चों में मृत्यु का प्रमुख कारण’: वैक्सीन ट्रेनिंग

मधेपुरा जिले के पीएचसी सिहेंश्वर में प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डा. आनंद भगत की अध्यक्षता में पीसीभी वैक्सीन के बारे में आशा, आंगनबाड़ी सेविका और एएनएम को पीएचसी के सभागार में प्रशिक्षण दिया गया । 

इस अवसर पर डा. भगत ने कहा आज न्यूमोनिया और डायरिया 5 साल से छोटे बच्चों में मृत्यु का प्रमुख कारण है । आज विश्व में 10 लाख बच्चे न्यूमोनिया से मरते हैं । उन्होंने कहा न्यूमोनिया का मुख्य कारण न्यूमोकोकस बैक्टीरिया है । यह स्वस्थ लोगों के नाक और गले में बिना किसी बीमारी के पाया जाता है । यह शरीर के अन्य हिस्सों में भी फैल सकता है । जिससे कई बीमारी जैसे न्यूमोनिया, खून का इंफेक्शन, दिमागी बुखार, कान का इंफेक्शन होता है ।

कैसे फैलती है यह बीमारी  :-  न्यूमोकोकस जीवाणु खांसने और छींकने से एक से दूसरे व्यक्ति में फैलती है । यह बैक्टीरिया खासकर 2 साल से 5 साल के छोटे बच्चे को, कम प्रतिरोधक क्षमता वाले बच्चे एवं बूढ़े को बीमार करता है ।

पीसीभी वैक्सीन है कारगर उपाय :-  न्यूमोकोकस बैक्टीरिया से होने वाले बीमारी से बचाव का पीसीभी वैक्सीन सबसे कारगर तरीका है । इस वैक्सीन से न्यूमोनिया बीमारी के कारण बाल मृत्यु दर में कमी आयेगी । उन्होंने बताया कि यह वैक्सीन काफी महंगा होने के कारण केवल प्राईवेट चिकित्सकों के पास ही उपलब्ध रहता था । जहाँ इसके एक डोज की कीमत तीन से चार हजार रुपये थी, अब सरकार उसे नियमित टीकाकरण कार्यक्रम में मुफ्त उपलब्ध करा कर सराहनीय कदम उठाया है । प्रथम चरण में हिमाचल प्रदेश में  तथा बिहार और उत्तर प्रदेश के चिन्हित जिलों में टीकाकरण के अंतर्गत सरकारी अस्पताल, डिस्पेंसरी, पीएचसी, सीएससी में टीकाकरण सत्र में उपलब्ध कराई जाएगी । बिहार में 17 जिले को इस वैक्सीन के लिए चुना गया है  जिसमे मधेपुरा जिला भी है।

टीकाकरण का क्या होगा स्वरूप :-  डा. भगत ने बताया यह वैक्सीन का तीन टीका दिया जायेगा । दो प्राईमरी टीका 6 हफ्ते और 14 हफ्ते की उम्र पर और बूस्टर टीका 9 माह की उम्र पर दिया जायेगा । मौके पर मॉनिटरिंग के लिए पहुचे डब्लूएचओ के एसएमओ डा. आशीष कुमार ने सिहेंश्वर पीएचसी में चल रहे प्रशिक्षण की सराहना की। मौके पर डा. जय कृष्ण कुमार, डा रविंद्र कुमार, डा. राजकिशोर सिंह,  डा. सदफ हयात, बीएचएम पीयूष वर्धन, सुनील कुमार, डब्लूएचओ के अरसद अली, अमरेन्द्र चौरसिया, सुभाष कुमार, टेक्नीशियन संजय कुमार मौजूद थे ।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...