01 जून 2017

सुपौल: खुले में शौच गई न्याय सचिव को विषधर ने डंसा, गंवानी पड़ी जान

सुपौल। खुले में शौच मुक्त को लेकर केंद्र व राज्य की सरकार दृढ संकल्पित हैं। कई दावे व स्लोगन दिये जा रहे है,  लेकिन जमीनी हकीकत लक्ष्य से कोसों दूर दिखाई दे रही है।

ताजा मामला जिला मुख्यालय से सटे चैनसिंहपट्टी गांव का है, जहां खुले में शौच जाने के कीमत एक औरत को जान गंवा कर चुकानी पड़ी। जानकारी के अनुसार गुरूवार को चैनसिंहपट्टी निवासी 35 वर्षीय उषा कुमारी घर के समीप एक झाड़ी में शौच के लिए गयी थी। जहां उसे एक विषधर सांप ने डंस लिया। दौड़ते हुए वह वापस घर आकर घर के सदस्यों को इसकी जानकारी दी। आनन- फानन में लोगों ने उसे सदर अस्पताल में भर्ती कराया। जहां ईलाज के क्रम में उसकी स्थिति बिगड़ती ही जा रही थी। स्थिति को गंभीर देख डॉक्टरों ने उसे बेहतर ईलाज के लिए हाईयर सेंटर रेफर कर दिया। लेकिन आधे रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया।
मृतका ग्राम कचहरी के न्याय सचिव पद पर अपने पंचायत में ही कार्यरत थी। जिन्हे दो छोटे- छोटे बच्चे हैं। जिसकी मासूमियत को देख लोग अपने आंसू पर काबू नहीं कर रहे हैं।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...