17 जून 2017

‘के थोड़ी-थोड़ी पिया करो’: मधेपुरा में शराब के नशे में ‘प्रोफ़ेसर साहब’ धराए

मधेपुरा जिला के चौसा थाना के पुलिस प्रसासन ने गुप्त सुचना के आधार पर चौसा बाजार में शराब के नशे में शोर गुल करते हुए चौसा अवस्थित बाबा बिशुराउत् कॉलेज के एक प्रोफ़ेसर को गिरफ्तार कर मेडिकल जाँच के लिए चौसा प्राथमिक स्वास्थ केंद्र भेजा.

मालूम हो कि मधेपुरा के जिला पदाधिकारी मो. सोहैल ने कुछ दिन पहले सारे पदाधिकारी को निर्देश दिया था कि  शराब के मामले में हम किसी को बख्सा नहीं जाएगा। मिली जानकारी के अनुसार आज शाम के 6 बजे चौसा थाना अध्यक्ष सुमन कुमार सिंह को गुप्त सुचना मिली कि  एक आदमी चौसा बाजार में शराब के नशे में अनाप सनाप बोल रहा है। सूचना मिलते ही ए एस आई आलोक कुमार अमल, सचिदानंद सिंह, ग्रामीण पुलिस मृत्युंजय कुमार, राजेश कुमार पासवान पहुँच कर एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर चौसा प्राथमिक स्वास्थ केंद्र मेडिकल जाँच के लिए भेजा गया जहाँ डॉ राजेश कुमार यादव ने 16 प्रतिशत अल्कोहल होने की बात कही। आरोपी की पहचान अरजपुर पश्चिमी पंचायत के मनोहर पुर निवासी अशोक यादव के रूप में हुई जो कि चौसा के बाबा बिशुराउत् कॉलेज के प्रोफ़ेसर भी है।

वैसे 16% अल्कोहल की मात्रा पर थाना अध्यक्ष सुमन कुमार सिंह ने कहा कि मुझे चौसा प्राथमिक स्वास्थ केंद्र की रिपोर्ट पर अब विश्वास करना मुश्किल हो गया है तथा मेडिकल जाँच के लिए उदाकिशुनज भेज दिया गया। श्री सिंह ने कहा कि पूर्व में भी रिपोर्ट में संदेह होने पर हमने उदाकिशुगंज में जाँच करवाया तो रिपोर्ट अलग हो गया था। पर मधेपुरा के उत्पाद अधिकारी एस के चौधरी ने मधेपुरा टाइम्स को स्पष्ट किया कि 16% मात्रा भले ही कम हो पर ये साफ़ है कि शराब पी गई है और ये अपराध की श्रेणी में आता है. 

वैसे भी बिहार में चोरी-छिपे बेचे जाने वाली शराब महँगी हो गई है तो अधिकांश पियक्कड़ कम मात्रा में ही ले रहे हैं. ऐसे में गजल गायक पंकज उदास की वो पंक्तियाँ लोगों को याद आ सकती है कि 'हुई महँगी बहुत ये शराब के थोड़ी-थोड़ी पिया करो'.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...